कंगना ने की अर्नब गोस्वामी की रिहाई की मांग, ट्वीट कर लिखा- 'माफिया के खिलाफ उठ रही हर आवाज को दबाया जा रहा'

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने की अर्नब गोस्वामी की रिहाई की मांग करते हुए कहा कि माफिया के खिलाफ उठने वाली हर आवाज को दबाया जा रहा है।

Kangana Ranaut and Arnab Goswami
Kangana Ranaut and Arnab Goswami 

मुख्य बातें

  • कंगना रनौत ने की अर्नब गोस्वामी की रिहाई की मांग।
  • कंगना बोलीं- माफिया के खिलाफ उठने वाली हर आवाज को दबाया जा रहा है।
  • मालूम हो कि 04 नवंबर को अर्नब को गिरफ्तार किया गया था।

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने एक बार फिर अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा है। कंगना ने ट्विटर पर कई पोस्ट कर अर्नब की गिरफ्तारी की निंदा की। 

कंगना रनौत ने किया ये ट्वीट

कंगना ने ट्वीट कर कहा कि अर्नब को केवल इसलिए निशाने पर लिया गया है क्योंकि वो अपने चैनल पर खुलेआम महाराष्ट सरकार के खिलाफ बोलते हैं। कंगना ने अर्नब की रिहाई की मांग करते हुए ट्वीट कर लिखा, 'हम केवल यह सोच सकते हैं कि सुशांत (सिंह राजपूत) और दिशा (सालियन) की हत्याओं में शामिल, बुलीदाउद के ड्रग रैकेट और बच्चों के तस्करी के धंधे, माफिया के खिलाफ उठने वाली हर आवाज को दबाया जा रहा है। #ReleaseArnabNow'

अपना दफ्तर तोड़े जाने को लेकर भी किया ट्वीट

कंगना ने बीएमसी द्वारा उनके मुंबई स्थित दफ्तर में तोड़फोड़ करने को लेकर भी ट्वीट किया। कंगना ने लिखा, 'ये सत्ताओं के ठेकेदार गरीबों का हक मार के जो बैठे हैं, बड़े बिचारे हैं ये किस्मत के मारे हमसे पूछते हैं ये इरादे हमारे, हम को इस लड़ाई से क्या हासिल होगा तानाशाहों, एक घर बनाया था वो भी तुड़वा के बैठे हैं। #WeWantArnabBack'

अर्नब के खिलाफ बोलने वालों पर निकाला गुस्सा
 
मालूम हो कि अर्नब की गिरफ्तारी को लेकर सोशल मीडिया दो हिस्सों में बंट गया है जहां एक तरफ 'I am Indian and I don't support Arnab' यानी कि मैं भारतीय हूं और अर्नब का समर्थन नहीं करता हूं और Release Arnab यानी अर्नब को रिहा किया जाए को लेकर ट्वीट हो रहे हैं। इसपर कंगना ने ट्वीट कर लिखा, 'अर्नब और मुझ जैसे लोग अपनी कामयाबी और लोकप्रियता का जश्न मनाने की जगह, हम दुनिया के खिलाफ जाकर तुम सबके लिए लड़ते हैं। अगर बदले में हमें #IanIndianAndIdontSupportArnab मिलता है तो याद रखो कि तुम तीसरी दुनिया के देश में भुगतने के लायक हो, जो कि दुनिया का सबसे भ्रष्ट समाज है।'

04 नवंबर को किया था गिरफ्तार

मालूम हो कि अर्नब को साल 2018 में कथित रूप से 53 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाईक और उनकी मां को आत्महत्या करने के लिए उकसाने का आरोप है, जिसके बाद 04 नवंबर को उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने इंटीरियर डिजाइनर की पत्नी की शिकायत के आधार पर अर्नब और दो अन्य के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाने) का केस दर्ज किया। मालूम हो कि अर्नब को 18 नवंबर तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

Bollywood News in Hindi (बॉलीवुड न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर । साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) केअपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर