पहली शादी के बाद टूट गई थीं अर्चना पूरन सिंह, परमीत सिंह संग 4 साल लिव-इन में रहने के बाद की थी शादी

अर्चना पूरन सिंह ने फिल्मों में निभाए अपने छोटे-छोटे किरदारों से दर्शकों के दिलों में अपनी खास जगह बनाई है। अर्चना की पर्सनल लाइफ काफी उतार-चढ़ाव वाली रही है।

Parmeet and Archana Puran Singh love story
Parmeet and Archana Puran Singh Love Story 

मुख्य बातें

  • द कपिल शर्मा शो में जज की भूमिका निभाती हैं अर्चना पूरन सिंह
  • सीरियल 'श्रीमान श्रीमती जी' से फेमस हुआ था नाम
  • 18 साल की उम्र में मुंबई आकर विज्ञापनों में किया था काम

मुंबई: फिल्म 'कुछ कुछ होता है' की मिस ब्रिगैंजा यानी कि अर्चना पूरन सिंह ने अपनी निजी जिंदगी में कई उतार चढ़ाव देखे। बॉलीवुड से कॉमेडी शोज को जज करने वाली आज अपनी जिंदगी में बहुत खुश हैं। अर्चना ने 1992 में परमीत सेठी से शादी की थी। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इससे पहले भी अर्चना की शादी हो चुकी थी? इतना ही नहीं अर्चना का तो तलाक के बाद प्यार पर से ही विश्वास उठ चुका था। उनकी जिंदगी में फिर एंट्री हुई परमीत सेठी की। आज आपको बताते हैं उनकी दिलचस्प लव स्टोरी।

पहली मुलाकात में दे बैठे थे दिल:
अर्चना और परमी​त की मुलाकात एक इवेंट में एक्सीडेंटली हुई थी। छोटे से इंट्रोडेक्शन से उनके बीच बातों का सिलसिला शुरू हुआ। यहीं से उनका प्यार परवान चढ़ने लगा। अर्चना और परमीत सेठी की पहली मुलाकात हुई थी और इसी दौरान वो अर्चना को दिल दे बैठे थे। परमीत से मुलाकात के पहले ही अर्चना की जिंदगी में काफी उतार चढ़ाव आ चुके थे। अर्चना की पहली शादी से वो खुश नहीं थीं। तलाक के बाद अर्चना टूट चुकी थीं।

परमीत के बारे में अर्चना ने एक इंटरव्यू में कहा था, 'मेरी पहली शादी के बाद में नहीं चाहती थी कि कोई भी पुरुष मेरी जिंदगी में आए। लेकिन परमीत से मिलकर मुझे लगा कि पुरुष भी कोमल और सेंसिटिव हो सकते हैं।'

लिव-इन रिलेशन में चार साल:
खबरों की माने तो अपनी पहली शादी से निराश होने के बाद अर्चना पूरन सिंह किसी भी नए रिश्ते में बंधना नहीं चाहती थीं। अर्चना और परमीत ने साल 1992 में शादी की थी लेकिन इससे पहले दोनों चार साल तक लिव-इन रिलेशनशिप में थे। उन्हें लोगों से लेकर अपने दोस्तों और नजदीकी लोगों तक का सामना करना पड़ा था।

परिवार के विरोध का किया सामना:
उस दौरान मीडिया से लेकर परिवार वालों तक हर जगह अर्चना और परमीत को विरोध झेलना पड़ा, लेकिन परमीत ने हर वक्त अर्चना का साथ दिया। अर्चना ने परमीत के बारे में बताया, 'परमीत के घरवालों के मन में मुझे लेकर कुछ सवाल थे, लेकिन उस वक्त में परमीत मेरे साथ रहे और मुझे कमजोर नहीं पड़ने दिया। इतने सालों के बाद मैं अपने सास-ससुर के करीब आ गई हूं, सासू मां से मुझे बहुत प्यार मिला है।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Archana Puran Singh (@archanapuransingh) on

बेहतरीन अंडरस्टैंडिंग:
परिवार की तरफ से आने वाली अड़चनों के अलावा अर्चना और परमीत के करियर ग्राफ में भी काफी अंतर था। अर्चना उस समय में स्थापित कलाकार थीं, जबकि परमीत अभी भी अपनी पहचान बनाने के लिए संघर्ष कर रहे थे। लेकिन इन दोनों ने इसे समझदारी से हैंडल करते हुए कभी अपने रिलेशनशिप के आड़े नहीं आने दिया।

एक इंटरव्यू में अर्चना ने कहा था कि- 'शादी एक रिश्ते को मिलने वाला सिर्फ एक नाम है। जब हम दोनों ने लिव-इन में रहने का फैसला किया था तभी से हम एक दूसरे के साथ खड़े थे। हमने अपने बच्चों को एक पहचान देने के लिए शादी करने का फैसला लिया।'

अगली खबर