25 करोड़ रुपए डोनेट करने के बाद बोले अक्षय कुमार-'ये मेरी मां की तरफ से भारत मां के लिए है' 

Akshay Kumar On Donating 25 Crore: अक्षय कुमार ने पीएम राहत कोष में 25 करोड़ रुपए डोनेट करने की घोषणा की है। अब अक्षय ने पहली बार इस पर खुलकर बात की है। अक्षय ने कहा- 'ये मेरी मां की तरफ से भारत मां को है' 

Akshay Kumar
Akshay Kumar 

मुख्य बातें

  • अक्षय कुमार ने पीएम केयर फंड में 25 करोड़ रुपए डोनेट करने की घोषणा की है।
  • अक्षय कुमार ने डोनेट करने के बाद पहली बार अपनी बात रखी है।
  • अक्षय ने कहा- 'ये मेरी मां की तरफ से भारत मां को है।' 

मुंबई. अक्षय कुमार ने कोरोना वायरस के कारण मुश्किल की घड़ी में आगे आकर मदद की है। अक्षय कुमार ने पीएम केयर फंड में 25 करोड़ रुपए डोनेट करने की घोषणा की है। अब पहली बार अक्षय ने इस पर अपनी चुप्पी तोड़ी है।

पिंकविला की रिपोर्ट के मुताबिक अक्षय कुमार ने एक इंटरव्यू में कहा है कि- 'पहली बात तो ये कि मैं कौन होता हूं चैरिटी या डोनेट करने वाला। दूसरी बात की हम अपने देश को भारत माता कहते हैं। मेरा ये योगदान मेरा नहीं है। ये मेरी मां की तरफ से भारत मां को है।' 

अक्षय कुमार ने कहा कि-'मैं अपनी मां की बात यहां पर कहना चहता हूं। पूरी दुनिया में डर का माहौल है कि कोरोना वायरस की इस मुश्किल की घड़ी में सीनियर सिटीजन को अकेला छोड़ दिया जा सकता है।'

अक्षय बोले- फर्क नहीं पड़ता हम कौन हैं   
अक्षय कुमार ने इंटरव्यू में कहा- 'हम ये सोच भी कैसे सकते हैं। मेरी मां की जान जरूरी है, आपके मां-बाप की जान भी जरूरी है। इससे फर्क नहीं पड़ता कि हम कौन हैं, इस वक्त हर एक जान को बचाना बहुत ज्यादा जरूरी है। मैंने सिर्फ इसकी तरफ अपना छोटा सा फर्ज अदा किया है।

आपको बता दें कि अक्षय कुमार ने 25 करोड़ रुपए डोनेट की घोषणा करते हुए लिखा- 'मैं अपनी बचत से नरेंद्र मोदी जी के पीएम केयर्स फंड में 25 करोड़ रुपये दान करने की शपथ लेता हूं। जिंदगियां बचाते हैं। जान है तो जहां है।' 

ट्विंकल खन्ना ने लिखा ये पोस्ट
ट्विंकल खन्ना ने अक्षय के पोस्ट को रीट्वीट कर लिखा था-'यह इंसान मुझे गौरान्वित करता है। जब मैंने इनसे पूछा कि क्या वो इस बारे में पूरी श्योर हैं क्योंकि यह बहुत बड़ी कीमत है और इसके लिए हमें फंड्स खत्म करने पड़ेंगे।'


 

ट्विंकल लिखती हैं- अक्षय ने मुझसे कहा, 'जब मैंने शुरू किया था तब मेरे पास कुछ नहीं था और आज मैं इस स्तर पर हूं तो मैं उनके लिए कुछ भी करने से कैसे रुक जाऊं जिनके पास कुछ नहीं है।'

अगली खबर