Throwback: बेटी की मौत पर चेहरा तक देखने नहीं आई थीं Moushumi Chatterjee, दामाद ने किया बड़ा खुलासा

Throwback: भारतीय सिनेमा की पूर्व अभिनेत्री मौसमी चटर्जी ने 13 दिसंबर 2019 के दिन अपनी बेटी पायल को खो दिया था। उनकी बेटी पायल सिन्हा के जाने के बाद वह और उनके दामाद विवादों में घिरे हुए थे। 

Moushumi Chatterjee, Moushumi chatterjee daughter, moushumi chatterjee payal, Moushumi chatterjee daughter payal passed away,
मौसमी चटर्जी  |  तस्वीर साभार: Times of India

मुख्य बातें

  • 13 दिसंबर 2019 के दिन मौसमी चटर्जी ने खोई थी अपनी 45 वर्षीय बेटी। 
  • पायल सिन्हा के मौत के बाद मां मौसमी चटर्जी और पति डिकी सिन्हा के बीच बन गया था विवाद का माहौल।
  • मौसमी चटर्जी के दमाद डीकी सिन्हा ने उन पर लगाए थे कई गंभीर आरोप।

Moushumi Chatterjee Did Not See Her Daughter Payal’s Face After Her Death: 70 के दशक में अपनी फिल्मों और एवरग्रीन गानों से मौसमी चटर्जी ने दर्शकों के दिलों में अपनी जगह बना ली थी। मगर, किसी को इस बात का अंदाजा नहीं था कि बॉलीवुड से दूर रहकर भी वह विवादों में बनी रहेंगी। दरअसल, उनकी बेटी पायल सिन्हा डायबिटीज से पीड़ित थीं और मौत (13 दिसंबर 2019) से करीब ढाई साल पहले वह कोमा का शिकार हो गई थीं।

मौसमी चटर्जी की बेटी पायल सिन्हा की मौत के बाद उनके और उनके दामाद के बीच आरोप और प्रत्यारोप का माहौल बन गया था। बॉलीवुड में फैमिली ड्रामा का यह ऐसा किस्सा है जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता। कहा जाता है कि पायल सिन्हा तो चली गईं मगर अपने साथ कई राज भी वह ले गईं। यहां जानें आखिर किस बात पर मौसमी चटर्जी और उनके दामाद डिकी सिन्हा के बीच छिड़ गई थी जंग। 

मौसमी चटर्जी ने अपने दामाद पर लगाए थे यह आरोप

बेटी की मौत के बाद मौसमी चटर्जी ने अपने दामाद डीकी सिन्हा पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। मौसमी चटर्जी का कहना था कि उनकी बेटी की मौत उनके दामाद के वजह से हुई थी क्योंकि डिकी उनकी बेटी का ध्यान नहीं रखा करते थे। बेटी की मौत के बाद मौसमी चटर्जी ने अपने दामाद पर मुकदमा भी दर्ज करवा दिया था। 

दमाद डिकी सिन्हा ने लगाया था यह आरोप

मीडिया के सामने आकर मौसमी चटर्जी के दमाद ने अपनी सफाई में यह कहा था कि वह अपनी पत्नी का हमेशा ध्यान रखा करते थे और उन पर लगाया लापरवाही का इल्जाम सरासर झूठ है। वह अपनी पत्नी की आखिरी सांस तक उनके साथ थे और उनका इलाज करवाते थे। डिकी सिन्हा ने अपनी सास मौसमी चटर्जी पर आरोप लगाते हुए यह कहा था कि वह अपनी बेटी की मौत के बाद उसका चेहरा तक नहीं देखने आई थीं। अंतिम संस्कार में भी वह शामिल नहीं हुई थीं।‌ सिर्फ पायल के पिता और उनकी बहन मेघा ही अंतिम संस्कार में आए थे। 

पायल की बहन मेघा ने जबरदस्ती की थी प्रसाद खिलाने की कोशिश

डिकी सिन्हा ने पायल की बहन मेघा पर भी आरोप लगाए थे। उन्होंने यह कहा था कि जब पायल जिंदा थीं तो मेघा ने उसे जबरदस्ती प्रसाद खिलाने की कोशिश की थी जिसकी वजह से उसका गला घुटने लगा था। मौसमी चटर्जी पर आरोप लगाते हुए डिकी ने कहा था कि पूर्व एक्ट्रेस ने अपनी बेटी की बीमारी का एक मुद्दा बना दिया था। उन्होंने यह कहा था कि कई सेलिब्रिटीज ने पायल का ध्यान रखने के लिए उनकी तारीफ भी की थी। मगर, मौसमी चटर्जी ने इसे मुद्दा बनाकर विवाद शुरू कर दिया था।

शादी के 10 साल तक अपने मायके नहीं गई थीं पायल 

डीके ने बताया था कि शादी के 10 साल तक पायल कभी अपने मायके नहीं गई थीं। और तो और, पायल जब अपने अंतिम 2 महीनों में अस्पताल में एडमिट थीं तो मौसमी सिर्फ 5 मिनट के लिए 5 बार अपनी बेटी पायल से मिलने आई थीं। डिकी ने बताया कि उनके पास सबूतों की रिकॉर्डिंग भी है। उन्होंने कभी मौसमी को अपनी बेटी से मिलने के लिए मना नहीं किया था। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें Entertainment News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर