REET Result 2021: CM अशोक गहलोत का बड़ा फैसला, रीट परीक्षा के लिए बीएड के अभ्‍यर्थ‍ियों को बड़ी राहत

REET 2021 CM Ashok Gehlot gives relief to bed students: राजस्‍थान के सीएम अशोक गहलोत ने रीट परीक्षा-2021 पास कर चुके बीएड के अध्ययनरत विद्यार्थियों को बड़ी राहत दी है।

REET 2021 CM Gives Relief to Bed Students
REET 2021 CM Gives Relief to Bed Students  
मुख्य बातें
  • बीएड में अध्‍ययनरत छात्रों को शिक्षक भर्ती में आवेदन की अंतिम तिथि तक पात्रता प्राप्त करने की छूट
  • माध्यमिक शिक्षा में पदोन्नति के मिलेंगे बड़े अवसर, 11 हजार से अधिक व्याख्याता बनेंगे वाइस प्रिंसिपल
  • राजस्थान बोर्ड ने 2 नवंबर को रीट 2021 का रिजल्‍ट जारी किया था

REET 2021 CM Ashok Gehlot gives relief to bed students: राजस्‍थान के सीएम अशोक गहलोत ने रीट परीक्षा-2021 (Rajasthan Eligibility Examination for Teacher) पास कर चुके बीएड के अध्ययनरत विद्यार्थियों को बड़ी राहत दी है। मुख्‍यमंत्री ने खुद ट्वीट कर जानकारी दी है। 

शुक्रवार शाम मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट किया- प्रदेश में माध्यमिक शिक्षा के उन्नयन, व्याख्याताओं को प्राचार्य के पद पर पदोन्नति के बेहतर अवसर उपलब्ध कराने, रीट परीक्षा-2021 पास कर चुके बीएड के अध्ययनरत विद्यार्थियों को अध्यापक भर्ती-2021 में आवेदन के अवसर उपलब्ध कराने हेतु शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में अहम निर्णय किए हैं।

शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में लिए गए फैसले- 

  1. प्रदेश के 11 हजार 353 राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालयों में उप प्रधानाचार्य के पद का सृजन होगा।
  2. राजकीय माध्यमिक विद्यालयों के 3 हजार 533 प्रधानाध्यापकों के कैडर को डाइंग कैडर घोषित किया जाएगा। इन विद्यालयों में अब प्रधानाचार्य लगाए जाएंगे। इसके लिए प्रधानाचार्य के नए पद भी सृजित किए जाएंगे।
  3. इस निर्णय से स्कूल शिक्षा में व्याख्याताओं को पदोन्नति के बेहतर अवसर उपलब्ध हो सकेंगे। 
  4. कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थितियों के चलते बीएड में अध्ययनरत अभ्यर्थियों का परीक्षा परिणाम रीट-2021 के परीक्षा परिणाम से पूर्व घोषित नहीं हो पाया है। इन अभ्यर्थियों को राजस्थान प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय अध्यापक सीधी भर्ती में आवेदन की अंतिम दिनांक तक शैक्षणिक एवं प्रशैक्षणिक योग्यता प्राप्त करने का अवसर दिया जाएगा।गहलोत के इस निर्णय से बड़ी संख्या में बीएड में अध्ययनरत अभ्यर्थी अध्यापक सीधी भर्ती के पात्र हो सकेंगे।
  5. बैठक में अध्यापक भर्ती परीक्षा प्रक्रिया को और बेहतर बनाने के लिए भविष्य में पात्रता परीक्षा के बाद चयन के लिए अलग से परीक्षा आयोजित कराने पर भी विचार विमर्श किया गया।
  6. शिक्षा राज्यमंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि शिक्षकों की लंबे समय से पदोन्नति के अवसर बढ़ाने की मांग चली आ रही थी। मुख्यमंत्री के इस निर्णय से प्रदेश के हजारों व्याख्याताओं को पदोन्नति का मौका मिल सकेगा। साथ ही इससे माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक स्तर पर शिक्षा की गुणवत्ता में भी सुधार होगा।

दरअसल, कोविड-19 के चलते बीएड में अध्ययनरत हजारों अभ्यर्थियों का परीक्षा परिणाम रीट 2021 के परीक्षा परिणाम से पहले घोषित नहीं हो पाया है। कई पेपर होना बाकी हैं और कई पेपर का टाइम टेबल भी अभी जारी नहीं हुआ है। इन छात्रों की मांग थी कि इन्हें रीट की पात्रता का मौका दिया जाएगा। इस निर्णय से बड़ी संख्या में बीएड में अध्ययनरत अभ्यर्थी अध्यापक सीधी भर्ती के पात्र हो सकेंगे। 

राजस्थान बोर्ड ने 2 नवंबर को रीट 2021 का रिजल्‍ट जारी किया था और 11,04,216 को पात्र घोषित किया गया था। लेवल-1 के लिए 3,03,604 व लेवल-2 के लिए 7,73,612 पात्र मिले थे।

 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर