NEET, JEE 2020:अपनाया जाएगा ऑड-ईवन फॉर्मूला, NTA ने शेयर किया प्लान, कहा-स्टूडेंट ना हों परेशान

Odd-Even to be used at Exam Centres: एनटीए ने एनईईटी, जेईई 2020 एग्जाम में छात्रों की सुरक्षा का आश्वासन दिया है और परीक्षा को लेकर प्लान साझा किया है, कहा जा रहा है कि ऑड ईवन फॉर्मूला अपनाया जाएगा।

DG NTA said Odd-Even to be used at Exam Centres assures students of safety at NEET, JEE 2020
NEET, JEE 2020 परीक्षा में ऑड-इवन फॉर्मूला का उपयोग किया जाएगा 

राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (NTA) के निदेशक डॉ. विनीत जोशी ने कोविड-19 महामारी के दौरान एनईईटी, जेईई 2020 एग्जाम को लेकर छात्रों की परेशानी पर एजेंसी का पक्ष रखा है। गौरतलब है कि तमाम छात्रों ने जेईई और एनईईटी 2020 परीक्षाओं को स्थगित करने के लिए चिंता जताई थी, इसपर एनटीए ने जवाब दिया कि परीक्षाएं अनुसूची के अनुसार आयोजित की जाएंगी। एक और बयान में, डॉ. जोशी ने छात्रों को चिंतित नहीं होने के लिए कहा है और कहा कि जेईई और एनईईटी 2020 परीक्षा केंद्रों पर पूरी सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी।

एग्जाम को लेकर प्लानिंग को  शेयर करते हुए, जोशी ने कहा कि एग्जाम सेंटर पूरी तरह से सैनेटाइज होंगे। परीक्षा की शुरुआत से पहले, फर्नीचर, फर्श, दीवारें, लिफ्ट, सामान्य क्षेत्र और कंप्यूटर को  सैनेटाइज किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि परीक्षा में ऑड-ईवन फॉर्मूला का उपयोग किया जाएगा।

जेईई मेन्स पर चिंताओं पर, डॉ. जोशी ने साझा किया कि ऑड ईवन फार्मूले का उपयोग किया जाएगा। उन्होंने कहा, "सुबह की शिफ्ट में आने वाले छात्रों को ऑड संख्या वाली मशीनें आवंटित की जाएंगी और शाम की शिफ्ट में आने वाले छात्रों को ईवन नंबर वाली मशीनें आवंटित की जाएंगी।"

NTA द्वारा जारी SOP का कड़ाई से पालन किया जाएगा

उन्होंने आगे यह भी कहा कि परीक्षा के लिए NTA द्वारा जारी SOP का कड़ाई से पालन किया जाएगा। राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी ने पहले ही विस्तृत सुरक्षा दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं। केंद्रों की संख्या बढ़ाने के अलावा, एजेंसी ने यह भी सुनिश्चित किया है कि एक कमरे में छात्रों की संख्या बहुत कम हों और हर समय पर्याप्त दूरी बनाए रखी जाए। जैसा कि लॉकडाउन और छात्रों को पर्याप्त तैयारी संसाधन नहीं मिलने की चिंताओं के बारे में, डॉ. जोशी ने बताया कि एनटीए के राष्ट्रीय परीक्षण अभ्यास लांच किया गया था, जिसमें छात्रों को तैयारी के लिए मॉक टेस्ट दिए गए थे। उन्होंने कहा, "नेशनल टेस्ट अभ्यास पहले ही 16.50 लाख डाउनलोड हो चुका है और आज जेईई मेन और एनईईटी 2020 के लिए श्रृंखला में यह 100 वां टेस्ट जारी करेगा।"

NEET के लिये तीन घंटे में 4 लाख से अधिक प्रवेश पत्र डाउनलोड किए गए

मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट के लिये बुधवार को तीन घंटे में चार लाख से अधिक प्रवेश पत्र डाउनलोड किए गए।राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ने बुधवार को दोपहर 12 बजे राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा के लिये प्रवेश पत्र जारी किए।सूत्रों ने कहा, ‘‘ नीट परीक्षा के लिये प्रवेश पत्र 12 बजे से डाउनलोड करने के लिये उपलब्ध है। पहले तीन घंटे में 4 लाख से अधिक उम्मीदवारों ने प्रवेश पत्र डाउनलोड किया।’’ इंजीनियरिंग के लिये संयुक्त प्रवेश परीक्षा (मुख्य) या जेईई एक से छह सितंबर के बीच होगी जबकि राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट-स्नातक) परीक्षा 13 सितंबर को कराने की योजना है।

इस वर्ष जेईई-मुख्य परीक्षा के लिए 9.53 लाख विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया है जबकि नीट के लिए 15.97 लाख विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया है।कोविड-19 महामारी के कारण इन प्रवेश परीक्षाओं को स्थगित करने की मांग बढ़ रही है। हालांकि शिक्षा मंत्रालय ने जोर दिया है कि परीक्षाएं निर्धारित समय पर ही सितंबर में होंगी।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर