...जब मनीष सिसोदिया बने 'हैप्पीनेस क्लास' के स्‍टूडेंट और छात्र बने टीचर

एजुकेशन
भाषा
Updated Nov 14, 2020 | 00:49 IST

Happiness class: दिल्‍ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया एक विशेष 'हैप्पीनेस क्लास' में हिस्‍सा लिया, जहां दिल्ली सरकार के स्कूलों के विद्यार्थी शिक्षकों की भूमिका में नजर आए।

...जब मनीष सिसोदिया बने 'हैप्पीनेस क्लास' के स्‍टूडेंट और छात्र बने टीचर
...जब मनीष सिसोदिया बने 'हैप्पीनेस क्लास' के स्‍टूडेंट और छात्र बने टीचर  |  तस्वीर साभार: BCCL

नई दिल्ली : दिल्‍ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शुक्रवार को एक विशेष 'हैप्पीनेस क्लास' में भाग लिया जहां दिल्ली सरकार के स्कूलों के विद्यार्थी शिक्षकों की भूमिका में नजर आए। कक्षा में, छात्रों ने सिसोदिया से कोविड-19 महामारी के दौरान घर पर रहने के दौरान अपने जीवन पर 'हैप्पीनेस पाठ्यकम' के सकारात्मक प्रभावों से जुड़े अनुभव साझा किए।

सिसोदिया ने कहा, 'बाल दिवस मनाया जाता है ताकि अभिभावक, माता-पिता और शिक्षक अपनी भूमिका के बारे में विचार कर सकें कि वे कैसे इस दुनिया को हमारे बच्चों के लिए एक बेहतर स्थान बना सकते हैं। यह ध्यान देने लायक बात है कि दो साल से आयोजित 'हैप्पीनेस क्लास' इस कोरोना वायरस महामारी के कठिन समय में बच्चों के जीवन में काफी मददगार साबित हुई है।'

उन्होंने आगे कहा कि मुझे यह जानकर खुशी हो रही है कि हमारे छात्र अब इस पाठ्यक्रम के शिक्षक बन गए हैं और अपने परिवार के सदस्यों और यहां तक कि अपने दोस्तों में भी इसका संदेश फैला रहे हैं।

इस क्लास का नेतृत्व बीपीएसकेवी, देवली की छात्रा गुलफ्शा और जीसीएसवी, द्वारका के छात्र निखिल ने किया।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर