CBSE Sample papers 2021-22: सीबीएसई ने कक्षा 10वीं व 12वीं टर्म 1 परीक्षा के लिए जारी किया सैंपल पेपर

CBSE Sample papers 2021-22: सीबीएसई यानी केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 2021-22 सत्र के लिए 10वीं और 12वीं टर्म 1 परीक्षा के लिए सैंपल पेपर के साथ साथ मार्किंग स्कीम भी जारी कर दिया है।

cbse sample papers 2021-22, cbse exam pattern 2021-22, सीबीएसई न्यूज़ 2021
CBSE papers 2021-22: बोर्ड परीक्षा के लिए सैंपल पेपर जारी (i-stock) 

मुख्य बातें

  • सीबीएसई ने कक्षा 10वीं और 12वीं टर्म 1 परीक्षा के लिए सैंपल पेपर जारी कर दिया है।
  • टर्म 1 परीक्षा नवंबर से दिसंबर जबकि टर्म 2 परीक्षा मार्च से अप्रैल में होंगी।
  • छात्र नीचे दिए लिंक या आधिकारिक वेबसाइट से सैंपल पेपर देख सकते हैं।

CBSE Sample papers 2021-22: सीबीएसई यानी केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 2021-22 सत्र के लिए 10वीं और 12वीं टर्म 1 परीक्षा के लिए सैंपल पेपर के साथ साथ मार्किंग स्कीम भी जारी कर दिया है। बता दें, कुछ दिन पहले CBSE ने कोरोना वायरस की वजह से बने मौजूदा हालात को देखते हुए एक अहम फैसले में कहा था कि अब 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं दो टर्म में आयोजित की जाएंगी। ऐसे में अब 10वीं और 12वीं दोनों कक्षाओं के लिए टर्म 1 परीक्षा के लिए सैंपल पेपर जारी कर दिए गए हैं।

टर्म 1 की परीक्षाएं नवंबर से दिसंबर 2021 में आयोजित की जाएंगी। जो CBSE Sample papers 2021-22 के लिए छात्र मार्किंग स्कीम व सैंपल पेपर देखना चाहते हैं वे आधिकारिक वेबसाइट cbse.gov.in पर जाकर या नीचे दिए गए डायरेक्ट लिंक की मदद से देख सकते हैं।

Click to Download Class 10th Sample Papers

Click to Download Class 12th Sample Papers

CBSE Sample papers से बच्चों को होगा फायदा

CBSE Sample papers से छात्रों को फायदा होगा, उन्हें परीक्षा के पैटर्न को समझने में मदद मिलेगी साथ ही साथ परीक्षा में आने वाले सवालों के प्रकार और उनकी मार्किंग स्कीम के बारे में जानकारी होगी। यह कदम उन्हें बोर्ड परीक्षा के लिए तैयार होने में मदद करेगा।

बताते चलें, कुछ दिन पहले सीबीएसई की तरफ से लिए गए फैसले के तहत नवंबर से दिसंबर में पहले टर्म की परीक्षाएं जबकि दूसरे टर्म की परीक्षाएं मार्च से अप्रैल में आयोजित की जाएंगी। इसके अलावा पेपर में पाठ्यक्रम का महज 50 प्रतिशत हिस्सा ही मौजूद होगा।

cbse exam pattern 2021-22 फैसले के अनुसार, पहले टर्म की परीक्षाएं एमसीक्यू आधारित होंगी, लेकिन अगर कोरोना का दौर मार्च-अप्रैल तक बना रहता है तो दूसरे टर्म की भी परीक्षाएं भी एमसीक्यू आधारित हो सकती हैं।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर