SSC GD Constable Recruitment 2021: इन टिप्स की मदद से करें एसएससी जीडी कांस्टेबल परीक्षा की तैयारी

एजुकेशन
नीलाक्ष सिंह
Updated Sep 02, 2021 | 16:59 IST

SSC GD Constable Recruitment 2021: कर्मचारी चयन आयोग ने जीडी कांस्टेबल और राइफलमैन के लिए बंपर ​वैकेंसी निकाली थी, जिसके लिए अंतिम तिथि निकल चुकी है, ऐसे में अब परीक्षा को लेकर सावधानी बरतने की जरूरत है।

ssc gd constable 2021,  ssc gd constable syllabus, एसएससी जीडी कॉन्स्टेबल परीक्षा
SSC GD Constable परीक्षा 2021 के लिए इन टिप्स को रखें ध्यान (i-stock) 

मुख्य बातें

  • SSC GD Constable के पदों के लिए आवेदन की अंतिम तिथि निकलने के बाद छात्रों को करना होगा परीक्षा पर फोकस
  • कुल 25000 से ज्यादा पदों के लिए परीक्षा का आयोजन किया जाना है, तिथि अभी घोषित नहीं है।
  • यहां नीचे परीक्षा को लेकर कुछ ऐसे सावधानी बताई गई हैं, जो आपके नंबर में इजाफा कर सकती हैं।

SSC GD Constable Recruitment 2021: SSC GD Constable के पदों के लिए आवेदन की अंतिम तिथि निकल चुकी है। इन पदों की कुल संख्या 25,271 है। जारी विज्ञप्ति के तहत कांस्टेबल और राइफलमैन के पदों पर आवेदन मंगाए गए थे। खास बात यह थी कि महिला उम्मीदवार भी इन पदों पर आवेदन कर सकती थी, उनके लिए कुल 2847 पद आरक्षित थे, जबकि पुरुषों के लिए 22424 पद निर्धारित थे।

अब बारी परीक्षा की है, भले पदों की संख्या 25000 से ज्यादा है लेकिन बिना रणनीति बनाए परीक्षा देने का कोई मतलब नहीं है। इसलिए नीचे आपको परीक्षा के बारे में और उससे जुड़े कुछ रणनीति के बारे में जानकारी दी जा रही है।
 
SSC GD Constable exam एसएससी जीडी कांस्टेबल परीक्षा के विषय

  1. जरनल इंटेलीजेंट एंड रीजनिंग - General Intelligence and Reasoning
  2. जरनल नॉलेज और जनरल अवेयरनेस - General Knowledge and General Awareness
  3. एलीमंट्री मैथेमैटिक्स - Elementry Mathematics
  4. अंग्रेजी/हिंदी - English/Hindi

उपरोक्त चार विषय पेपर में आएंगे। सभी विषयों से जुड़े 25 - 25 प्रश्न होंगे, एक विषय से 25 अंक निर्धारित हैं। यानी कुल 100 अंकों के लिए 100 प्रश्न होंगें। लेकिन समय केवल 90 मिनट होगा।

गति पर देना होगा ध्यान

यह परीक्षा कंप्यूटर आधारित होगी, जिसमें वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न होंगें। अब चूंकि इसमें बहुविकल्पीय प्रकार के प्रश्न होंगे, ऐसे में बिना भ्रमित हुए सटीक उत्तर का चुनाव करना सबसे जरूरी है। कई बार छात्र ऑप्शन में फंस जाते हैं, ऐसे में आपको ज्यादा समय नहीं लगाना है क्योंकि मात्र 90 मिनट में 100 प्रश्न कवर करना है।

निगेटिव मार्किंग से बचें

सभी प्रश्न अंग्रेजी व हिंदी दोनों भाषाओं में मौजूद होंगे। आप जिस भाषा में सहज हैं उसमें पेपर दीजिए, लेकिन गति के साथ इस बात का ध्यान रखिए कि यहां 0.25 अंकों की निगेटिव मार्किंग है। यानी 4 गलत उत्तर पर पूरा एक अंक कट जाएगा। ऐसे में जिस प्रश्न का जवाब आपको नहीं आता है, उसे मत छूइये। कई बार ज्यादा से ज्यादा अंक उत्तीर्ण करने के चक्कर में छात्र सभी प्रश्नों को हल करने की कोशिश करते हैं, उनके अनुसार शायद तुक्का लग जाए तो नंबर बढ़ जाएंगे। लेकिन इस तरह की परीक्षाओं में रिस्क नहीं लेने की सलाह दी जाती है।

बनाएं बेहतरीन स्टडी प्लान

किसी भी परीक्षा के लिए प्लान होना बहुत जरूरी है क्योंकि सभी विषय एक जैसे नहीं होते हैं, कोई विषय कम समझ आता है तो कोई आसानी से समझ आ सकता है, ऐसे में आपको टाइमटेबल की मदद से यह तय करना होगा कि कठिन विषयों को ज्यादा समय दिया जाए।

वेटेज पर दें ध्यान

ध्यान रहे, विषयों का स्तर 10वीं क्लास का होगा, लेकिन आपको यह आकलन करने की जरूरत है कि किस विषय में ज्यादा समय देना है। जरनल नॉलेज और जनरल अवेयरनेस अपने आप में काफी ब्रॉड टॉपिक है ऐसे में रोजाना अखबार पढ़ने के साथ साथ संबंधित किताबों का भी अच्छे से अध्ययन करें। इसके अलावा सामाजिक गतिविधियों से भी अपडेट रहें।

अभ्यास है जरूरी

रीजनिंग और मैथ्स ऐसे टॉपिक हैं, जिनका जितना अभ्यास करेंगे उतना अच्छा रहेगा। रीजनिंग में पहेलियों को हल करने की आदत डालें, न सिर्फ लिखित रूप से बल्कि आप मौखिक रूप से भी पहेलियों को हल करने कर सकते हैं।

विश्लेषण करें

अभ्यास के दौरान बार-बार गलतियां होंगी, ऐसे में नकारात्मक न आने दें, विश्लेषण करें और पुन: प्रयास करें।

अंत में याद रखें रोजाना अभ्यास और रिविजन आपको हर एग्जाम में बैठने का विश्वास देगा। ऐसे में उपरोक्त टिप्स को अपने रूटीन में जरूर शामिल करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर