Karnataka: पत्नी के साथ वीडियो कॉल करते हुए जेल गार्ड ने की खुदकुशी, एक साल पहले ही ज्वॉइन की थी पुलिस की नौकरी

Karnataka के शिवमोगा में एक जेल गार्ड ने पत्नी से वीडियो कॉल करने के दौरान आत्महत्या कर ली। गार्ड ने एक साल पहले ही पुलिस की नौकरी ज्वॉइन की थी।

Shivamogga jail warder Ashfaque Tagadi committed suicide during whatsapp video call to his wifeWarder_Suicide
पत्नी के साथ वीडियो कॉल करते हुए जेल गार्ड ने किया सुसाइड 
मुख्य बातें
  • कर्नाटक के शिमोगा में जेल गार्ड ने किया सुसाइड
  • पत्नी से वीडियो कॉल करते हुए गार्ड ने उठाया खौफनाक कदम
  • आत्महत्या के कारणों का पता लगाने में जुटी पुलिस

शिवमोगा: कर्नाटक के शिमोगा में एक जेल वार्डर ने पत्नी के साथ वीडियो कॉल पर बात करते हुए सुसाइड कर लिया है। मृतक ने एक साल पहले ही पुलिस की नौकरी ज्वॉइन की थी। मृतक जेल वार्डर का नाम अशफाक तगारी बताया जा रहा है जो  पिछले साल ही पुलिस विभाग में शामिल हुआ था और यह उनकी पहली पोस्टिंग थी। आत्महत्या के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है।

20 दिन पहले हुई थी बेटी

24 वर्षीय अशफाक की पत्नी शिफा ने 20 दिन पहले ही एक बच्ची को जन्म दिया था जिसके बाद से वह बेलगावी जिले स्थित अपने पैतृक घर में रह रही थी। पत्नी से वीडियो कॉल पर बात करते हुए जब अशफाक ने सुसाइड की बात कही तो पत्नी ने तुरंत शिमोगा के जेल अधिकारियों को फोन किया लेकिन जब तक वह अशफाग के फ्लैट पर पहुंचते तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।  पुलिस के मुताबिक, अशफाक का शव पंखे से लटका हुआ मिला था।

मौत के कारणों का नहीं चल सका है पता

पुलिस को अभी तक वीडियो कॉल और आत्महत्या के कारणों का विवरण नहीं मिला है। उनके सहयोगियों के अनुसार, अशफाक बुधवार को पुलिस परिसर में अपने दोस्त के जन्मदिन में शामिल हुए और रात करीब आठ बजे घर लौटे। पुलिस के अनुसार उन्होंने रात नौ बजे के बाद फोन किया। कॉल के दौरान उन्होंने यह जानलेवा कदम उठाने से पहले अपने परिवार के अच्छे स्वास्थ्य की कामना की।

विवाद से इनकार

गुरुवार को शिमोगा पहुंचे उनके पिता बाबू तगारी और ससुर राजे साब ने बताया कि अश्वक कई सालों से पेट की बीमारी से पीड़ित थे। दोनों ने तगारी की मौत के कारण के रूप में वैवाहिक या पारिवारिक विवादों से इनकार किया। राजे साब ने संवाददाताओं से कहा, 'वह एक देखभाल करने वाले व्यक्ति थे। हमने उनसे हर संभव सर्वोत्तम उपचार प्रदान करने का वादा किया था।' जेल अधिकारी महेश कुमार जिनगी ने कहा, "वह शारीरिक रूप से फिट और कुशल वार्डर थे।" शिवमोग्गा के तगारी का शव पोस्टमार्टम के बाद उसके माता-पिता को सौंप दिया गया है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर