पिता की जगह नौकरी पाने के लिए कलयुगी बेटे ने कर दी पिता की हत्या

बेरोजगारी बड़ी समस्या है लेकिन क्या कोई नौकरी के लिए अपने ही पिता की हत्या कर सकता है जी हां ऐसा ही हुआ है झारखंड में जहां एक बेरोजगार बेटे ने नौकरी के लालच में अपने ही पिता की हत्या कर दी।

Unemployed son murders father to get a job on compassionate ground in Jharkhand
प्रतीकात्मक फोटो 

नौकरी की चाह में झारखंड के रामगढ़ जिले में एक बेरोजगार बेटे ने अपने पिता की कथित तौर पर हत्या कर दी। पुलिस के अनुसार, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम (PSU) कंपनी में नौकरी हासिल करने के लिए बेटे ने अपने 55 वर्षीय पिता, सेंट्रल कोल फील्ड्स लिमिटेड (CCL) के एक कर्मचारी की हत्या कर दी।

मृतक कृष्ण राम रामगढ़ जिले के बरकाकाना में CCL की सेंट्रल वर्कशॉप में तैनात एक हेड सिक्योरिटी गार्ड थे पुलिस के हवाले से बताया गया कि गला रेतकर उनकी हत्या कर दी गई। पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, उप-मंडल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) प्रकाश चंद्र महतो ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि राम के 35 वर्षीय बड़े बेटे ने बरकाकाना में अपने क्वार्टर में उनकी हत्या कर दी।

अनुकंपा के आधार पर नौकरी पाने के लिए अपने पिता का गला रेत दिया

पुलिस ने अपराध में प्रयुक्त एक छोटा हथौड़ा चाकू और मृतक का मोबाइल फोन बरामद किया है। पुलिस ने दावा किया कि राम के बड़े बेटे ने पूछताछ के दौरान कबूल किया कि उसने अनुकंपा के आधार पर सीसीएल की नौकरी पाने के लिए अपने पिता की हत्या कर दी थी।

पुलिस ने कहा कि सीसीएल के प्रावधानों के अनुसार, कर्मचारी के कानूनी आश्रित को नौकरी दी जाएगी, यदि उसके सेवाकाल के दौरान कर्मचारियों की मृत्यु हो जाती है।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर