Widow Beating:चित्तौड़गढ़ में विधवा और एक लड़के को भीड़ ने बांधकर सबके सामने पीटा

चित्तौड़गढ़ में एक विधवा और एक लड़के को पीटने की घटना सामने आई है, आरोप है कि विधवा से मिलने आया उसका प्रेमी है जिसके गुस्साई भीड़ ने उन्हें सबक सिखाने के लिए ऐसा किया।

Widow Beating:चित्तौड़गढ़ में विधवा और एक लड़के को भीड़ ने बांधकर सबके सामने पीटा
एक विधवा और उसके कथित परिजन को 3 घंटे के लिए बिजली के खंभे से बांध दिया गया (प्रतीकात्मक फोटो) 

उदयपुर: एक विधवा और एक लड़के को 3 घंटे के लिए बिजली के खंभे से बांध दिया गया और शुक्रवार को ग्रामीणों के एक समूह द्वारा प्रताड़ित किया गया। यह घटना चित्तौड़गढ़ के डूंगला गांव में हुई थी। घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है। दोनों पीड़ितों को कथित रूप से पीटा गया और आरोपियों द्वारा उनसे बदतमीजी की गई, इस घटना के सामने आने के बाद तीन लोग इस मामले में दबोचे गए हैं, उनकी पहचान बंसीलाल, सांवरा और भगवान के रूप में हुई।

महिला अपने 3 साल के बेटे के साथ डूंगला में रहती है। शुक्रवार की सुबह, महिला का एक परिचित उसके घर कुछ जरूरी सामान पहुंचाने के लिए आया। वह आदमी पास के एक गाँव का रहने वाला है। कुछ ग्रामीणों ने माना कि महिला का युवकों के साथ संबंध था और इसलिए वह उसके घर पहुंचा। 

महिला, युवक को लोग घसीटकर घर से बाहर ले गए

ग्रामीणों ने विधवा और युवकों को कथित रूप से घर से बाहर खींच लिया और उन्हें बिजली के पोल से बांध दिया। द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक आरोपियों ने दोनों की पिटाई शुरू कर दी और महिला के ब्लाउज को फाड़ दिया। आरोपी व्यक्तियों द्वारा युवक की भी जमकर पिटाई की गई।लगभग 100 व्यक्तियों की भीड़ वहां ये देखकर भी चुप रही कि दोनों को प्रताड़ित किया जा रहा था। हालाँकि, कुछ ग्रामीणों ने आरोपी को रोकने की कोशिश की लेकिन व्यर्थ रहा,आरोपियों को रोकने की कोशिश करने वाली महिलाओं में से एक पर कथित तौर पर हमला भी किया गया।

कथित रूप से दर्शकों में से एक ने घटना को फिल्माया और वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया। डूंगला एसएचओ ओम सिंह ने एसपी द्वारा एक आदेश जारी करने और दो पीड़ितों को चिकित्सीय परीक्षण के लिए ले जाने के बाद शिकायत दर्ज कर तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर