लड़की का रेप करने के लए कतार में लगे रहे 30 युवा, घटना सामने आने पर लोगों का फूटा गुस्सा

Gangrape in Israel: इजरायल में एक किशोर लड़की के साथ हुई गैंगरेप की घटना से देश में नाराजगी पैदा हो गई है। लोगों के गुस्से को देखते हुए पीएम बेंजामिन नेतन्याहू और अन्य नेताओं को बोलने के लिए बाध्य होना पड़ा है।

Outrage in Israel over alleged gang rape of teenager
लड़की का रेप करने के लए कतार में लगे रहे 30 व्यक्ति। -प्रतीकात्मक तस्वीर  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • इजरायल में किशोर लड़की के साथ कथित गैंगरेप की घटना के बाद लोगों में गुस्सा
  • मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने महिलाओं से 'मी टू' अभियान चलाने की अपील की
  • लोगों की नाराजगी देखने के बाद पीएम नेतन्याहू और अन्य नेताओं ने दिए बयान

यरूशलम : इजरायल में एक 16 साल की लड़की के साथ कथित रूप से 30 लोगों ने गैंगरेप को अंजाम दिया। इस घटना के सामने आने के बाद लोगों में गुस्सा देखा जा रहा है। यहां तक कि प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने इस घटना को 'शॉकिंग' बताया है। घटना सामने आने के बाद इजरायल में कई मानवाधिकार समूह सामने आए हैं और महिलाओं से अपील की है कि वे 'मी टू' की तरह अभियान चलाकर अपने साथ हुए दुराचार की घटनाओं के बारे में सोशल मीडिया में लिखें ताकि 'सफेदपोश' चेहरे बेनकाब हो सकें।

रिसॉर्ट में लड़की के साथ हुआ गैंगरेप
अलजजीरा की रिपोर्ट के मुताबिक जिन लोगों ने रेड सी रिसॉर्ट में किशोर लड़की के साथ गैंगरेप किया, उनकी उम्र 20 साल के करीब बताई गई है। रिपोर्ट के मुताबिक इस रिसॉर्ट के जिस कमरे में किशोर लड़की थी उसके साथ गैंगरेप करने के लिए ये आरोपी कतार में खड़े होकर अपनी बारी की प्रतीक्षा की। बताया गया कि लड़की नशे की हालत में थी जिसका आरोपियों ने फायदा उठाया। इस घटना के बाद इजरायल के कई शहरों में विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं।

पुलिस ने दो संदिग्धों को गिरफ्तार किया
बताया जा रहा है कि लड़की ने अपने साथ हुई इस घटना की शिकायत पिछले सप्ताह एलत शहर में पुलिस से दर्ज कराई। एएफपी न्यूज एजेंसी के मुताबिक पुलिस प्रवक्ता मिकी रोसेनफील्ड ने बताया, '16 वर्षीय लड़की के साथ हुई इस घटना के संदर्भ में दो संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है।' इस घटना के खिलाफ गुरुवार को इजरायल के दो बड़े शहरों तेल अवीव एवं यरूशलम में बड़े प्रदर्शन हुए जिसके बाद नेताओं को महिलाओं के खिलाफ अपराध पर बोलने के लिए बाध्य होना पड़ा।

पीएम नेतन्याहू ने दिया बयान
प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने कहा, 'यह शॉकिंग है। इसके लिए कोई और शब्द नहीं हो सकता।' पीएम ने सभी दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है। इजरायल के राष्ट्रपति ने युवाओं को खत लिखा है। उन्होंने कहा, 'यौनिक हमला, रेप, यौन उत्पीड़न, सेक्स हिंसा-ये ऐसे धब्बे हैं जिन्हें साफ नहीं किया जा सकता। ये धब्बे हमारे समाज और मानवता को नष्ट करते हैं।'

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर