'बंटी और बबली' फिल्म देख शातिर दंपत्ति ने नामी ज्वैलर्स को बना डाला शिकार, ऐसे चढ़े हत्थे

Bunty aur Babli:पुलिस ने दिल्ली के नामी ज्वैलर्स से 2.2 करोड़ की धोखाधड़ी करने के मामले में एक दंपति को गिरफ्तार किया है बताया जा रहा है कि ये बेहद ही शातिर हैं और उन्हें सट्टा खेलने की लत है।

Idea came after watching Bunty Babli movie couple loses Delhi's jeweler for two crores
प्रतीकात्मक फोटो 

मुख्य बातें

  • ये लोग लग्जरी लाइफ स्टाइल जीने का शौक रखते हैं और होटलों में पैसा खर्च करते थे
  • ज्वेलर्स से करीब 2.2 करोड़ के गहने खरीदे लेकिन पेमेंट नहीं दिया
  • एक गुप्त सूचना के आधार पर एक फ्लैट से इस कपल को गिरफ्तार किया

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में धोखाधड़ी और जालसाजी का ऐसा मामला सामने आया जिसमें आरोपी दंपत्ति हैं और बेहद ही शातिराना अंदाज में अपने शिकार को चूना लगाते थे, इस बार उनकी जद में दिल्ली के एक नामी ज्वैलर्स भी आ गए हैं, कपल ने धोखाधड़ी करते हुए इस ज्वेलर्स को 2.2 करोड़ रुपये का चूना लगा दिया, पुलिस ने अब मामले का सुराग लगाकर दोनों को अरेस्ट कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है।

दिल्ली पुलिस ने एक गुप्त सूचना के आधार पर एक फ्लैट से इस कपल को गिरफ्तार कर लिया, जहां दोनों किराए के मकान में रह रहे थे, पूछताछ में सामने आया कि ये लोग लग्जरी लाइफ स्टाइल जीने का शौक रखते हैं और शानदार होटलों में पैसा खर्च करते थे साथ ही इन्हें सट्टे और जुए का भी शौक है।

बताते हैं कि इनकी लग्जरी लाइफ में बीएमडब्ल्यू  और ऑडी जैसी महंगी गाड़ियां भी शामिल हैं लेकिन सट्टे की लत में ये काफी पैसा हार गए। ये दोनों बेहद शातिर हैं इन्होंने दिल्ली के एक नामी ज्वैलर्स को शिकार बनाया।

ज्वेलर्स से करीब 2.2 करोड़ के गहने खरीदे लेकिन पेमेंट गोल

पुलिस के मुताबिक दोनों ने मिलकर ज्वेलर्स से करीब 2.2 करोड़ के गहने खरीदे लेकिन उसका भुगतान नहीं किया आरोपी ने खुद को दिल्ली का बड़ा कारोबारी बताया और फिर शादी की शॉपिंग के नाम पर ज्वेलरी खरीदी और कुछ दिन में भुगतान करने की बात कही थी जिसके बाद से ये गायब हो गए जिसके बाद ठगी का एहसास हुआ तो पुलिस में मामला दर्ज कराया गया।

बंटी-बबली फिल्म से आया आइडिया

पूछताछ में आरोपी कपल ने बताया कि कई साल पहले आई फिल्म बंटी बबली से उन्हें आईडिया मिला कि ज्वेलरी शोरूम में बड़ी ठगी को अंजाम कैसे दिया जा सकता है, दोनों ने प्लान बनाकरअपने एक साथी को पहले बिजनेसमैन के तौर पर करोल बाग के शोरूम में भेजा।

शोरूम के मैनेजर पर भरोसा बनाने के लिए कुछ दिनों तक छोटी छोटी शॉपिंग की अक्सर वह शोरूम से कुछ जेवरात खरीदते और उसकी कुछ पेमेंट देकर चले जाते कई बार इन लोगों ने पूरी पेमेंट भी की जिससे उनका भरोसा जम गया बाद में उन्होंने भारी ठगी को अंजाम दे डाला। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर