Delhi : बावनिया-गोगी गिरोह के बीच खूनी गैंगवार! एक दो नहीं बल्कि शरीर में उतार दीं 18 गोलियां 

Delhi Crime News : अलीपुर के बाहरी इलाके में गोलीबारी की घटना की जानाकीर पुलिस को गुरुवार को करीब 1.45 बजे हुई। पुलिस को बताया गया कि अलीपुर में एक व्यक्ति को गाली मारी गई है।

Delhi : Gog- Bawania gang rivalry 38-year-old man shot dead in Alipur
बावनिया-गोगी गिरोह के बीच खूनी गैंगवार!  |  तस्वीर साभार: PTI
मुख्य बातें
  • गुरुवार रात राजधानी दिल्ली के अलीपुर में बेदर्दी से हुई व्यक्ति की हत्या
  • पुलिस मान रही है कि यह हत्या दो गिरोहों के बीच गैंगवार के चलते हुई
  • फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है, शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा

नई दिल्ली : गिरोहों के बीच वर्चस्व को लेकर गैंगवार की घटनाएं सामने आती रही हैं। एक-दूसरे को नुकसान पहुंचाने एवं अपना दबदबा कायम रखने के लिए गिरोह खूनी संघर्ष करने से भी बाज नहीं आते। माना जा रहा है कि गुरुवार रात राजधानी दिल्ली के अलीपुर में गैंगवार की एक भीषण वारदात हुई। शुरुआती जांच में पुलिस को लगता है कि मारे गए गैंगस्टर जितेंद्र गोगी गिरोह से जुड़े तीन गुर्गों ने अपने कट्टर दुश्मन नीरज बावनिया गैंग के एक गुर्गे पर जानलेवा हमला किया। गोगी गिरोह के गुर्गों ने बावनिया गैंग के बदमाश पर एक-दो नहीं बल्कि 18 गोलियां दागीं। यह हत्या दो गिरोहों की आपसी संघर्ष का नतीजा है अथवा इसे निजी दुश्मनी के कारण अंजाम दिया गया, पुलिस इसका पता लगा रही है। 

हमले का वीडियो वायरल हुआ
इस हमले का वीडियो शुक्रवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। इस वीडियो में तीन व्यक्तियों को एक अन्य व्यक्ति पर हमला करते हुए देखा जा सकता है। गोली लगने के बाद व्यक्ति जैसे ही नीचे गिरा, तीन बदमाश मौके से फरार हो गए। रिपोर्टों के मुताबिक मारा गए व्यक्ति का नाम प्रमोद सिंह है। बताया जाता है कि साल 2014 में गैंगस्टर अमित भूरा को पुलिस हिरासत से भगाने में प्रमोद कथित रूप संलिप्त था। भूरा को देहरादून जेल से बागपत के जिला अदालत लाया जा रहा था तभी उसे भगाया गया। इस दौरान पुलिस टीम से उनके हथियार भी छीने गए। हालांकि, बाद में अप्रैल 2015 में पुलिस ने भूरा को फिर पकड़ लिया। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल प्रमोद को भी पहले गिरफ्तार कर चुकी थी। 

अधिकारियों को झांसे में लेकर वसूलती थी लाखों की फिरौती, हनीट्रैप केस में महिला की गिरफ्तारी से खुले कई राज

बाइक पर आए थे तीन हमलावर
अलीपुर के बाहरी इलाके में गोलीबारी की घटना की जानाकरी होने पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस को बताया गया कि अलीपुर में एक व्यक्ति को गाली मारी गई है। जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस की टीम सिंह को लेकर अस्पताल गई जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस के मुताबिक शुरुआती जांच में पता चला है कि प्रमोद जेल में बंद बावनिया का साथी था। इलाके की सीसीटीवी की जांच में सामने आया है कि बाइक पर आए तीन हमलावरों ने प्रमोद पर अंधाधुंध फायरिंग की। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि जांच में व्यक्ति की हत्या में गोगी गिरोह के सदस्यों पर शक की सुई गई है। 

18 साल के पाकिस्‍तानी लड़के को PUBG की लगी ऐसी लत कि मां और भाई-बहनों को भून डाला

शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा
रिपोर्टों के मुताबिक डीसीपी बृजेंद्र कुमार यादव का कहना है कि घटनास्थल पर पहुंची फॉरेंसिक टीम को दागे गए कारतूस के नौ खोखे मिले। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस अधिकारी का कहना है कि यह हत्या गिरोहों के बीच संघर्ष अथवा निजी दुश्मनी का परिणाम है, जांच पूरी हो जाने के बाद इसका पता चलेगा।  

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर