Bihar: नक्सलियों ने एक ही घर के 4 लोगों की हत्या कर शवों को खंभे से लटकाया, घर को भी बम से उड़ाया

Bihar News: बिहार के गया स्थित डुमरिया में नक्सलियों ने मुखबिरी के आरोप में क्रूरता करते हुए एक ही परिवार के चार सदस्यों को फांसी पर लटका दिया और बाद में घर को भी बम से उड़ा दिया।

Bihar Maoists kill 4 member of a family, hang their bodies in Gaya
नक्सलियों ने की एक ही घर के 4 लोगों की हत्या, घर भी उड़ाया  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • बिहार के गया में नक्सलियों ने एक ही परिवार के चार सदस्यों को मार डाला
  • मुखबिरी का आरोप लगाकर दिया वारदात को अंजाम, घर को भी विस्फोट से उड़ाया
  • हत्या करने के बाद नक्सलियों ने शवों को गोशाला में बांस के खंभों पर लटका दिया

गया: बिहार के गया में माओवादियों ने एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने एक ही घर के चार लोगों की हत्या कर उनके शव खंभे पर लटका दिए। इसके बाद नक्सलियों ने घर को भी डायनामाइट से विस्फोट कर उड़ा दिया। इस वारदात के पास इलाके में खौफ पसरा हुआ है, वहीं पुलिस इस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है। मामला गया के डुमरिया स्थित मोनबार गांव का है।

शवों को लटकाया

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) ने बताया कि बिहार -झारखंड सीमा के समीप डुमरिया थानाक्षेत्र में प्रतिबंधित भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) के सदस्यों ने शनिवार रात को सरयू सिंह भोक्ता के घर पर हमला किया। जिस वक्त नक्सली यहां पहुंचे उस दौरान भोक्ता अपने घर पर नहीं थे, लेकिन हमलावरों ने उनके दो बेटों एवं उनकी पत्नियों को मार डाला तथा उनके शवों को गोशाला में बांस के खंभों पर लटका दिया।

घर को विस्फोट से उड़ाया

चार लोगों की हत्या करने के बाद भी जब नक्सलियों का मन नहीं भरा तो उन्होंने घर में डायनामाइट (बम) लगाया और फिर ब्लास्ट कर घर को भी उड़ा दिया। जाते-जाते माओवादियों ने एक पर्चा भी छोड़ गए जिसमें उन्होंने भोक्ता और उनके परिवार पर पुलिस के लिये मुखबिरी करने का आरोप लगाया है। भाकपा (माओवादी) ने इस पर्चे में दावा किया है कि इस परिवार की मुखबिरी के चलते इस साल मार्च में स्थानीय पुलिस और कोबरा बटालियन ने मुठभेड़ में चार नक्सलियों को मार गिराया था और भारी मात्रा में हथियार एवं गोला-बारूद बदामद किया गया था।

इसमें लिखा है कि सरयू सिंह भोक्ता के घर की महिलाओं ने सात महीने पहले चार बड़े नक्सली नेताओं को जहर खिलाकर मार दिया था। एडीजी ने कहा, ‘ गया के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आदित्य कुमार घटनास्थल पर डेरा डाले हुए हैं और अपराधियों की धर-पकड़ के लिए तलाशी अभियान की निगरानी कर रहे हैं। झारखंड से सटे अन्य जिलों के पुलिस प्रमुखों से भी नक्सली गतिविधि के मद्देनजर तलाशी अभियान चलाने को कहा गया है।’


 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर