IPL 2020: कोरोना का ऐसा खौफ, श्रेयस अय्यर ने बोर्ड परीक्षा रिजल्ट से की कोविड टेस्ट की तुलना  

कोरोना का खौफ खिलाड़ियों के बीच कैसा है इस बात की तस्दीक दिल्ली कैपिटल्स, के कप्तान श्रेयस अय्यर ने कोराना टेस्ट नतीजों की तुलना बोर्ड परीक्षा के परिणाम से की है।

Sheryas Iyer
श्रेयस अय्यर 

मुख्य बातें

  • दिल्ली की टीम 20 सितंबर को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ शुरू करेगी अपने अभियान की शुरुआत
  • श्रेयस अय्यर ने बताया है कि टीम के खिलाड़ियों के अंदर कोरोना को लेकर था कितना खौफ
  • अय्यर ने बताया लय वापस पाने में उन्हें लगा कितना वक्त

दुबई: कोरोना के कहर के बीच दुनिया की सबसे लोकप्रिय टी20 लीग वापसी के लिए तैयार है। कोरोना संकट के कारण आईपीएल 2020 का आयोजन यूएई में 19 सितंबर से 10 नवंबर तक होना है। लॉकडाउन की वजह से अपने चहेते खेल से महीनों दूर रहने के बाद खिलाड़ी मैदान पर एक बार अपना जलवा बिखेरने को तैयार हैं। ऐसे में दिल्ली कैपिटल्स टीम के कप्तान श्रेयस अय्यर ने कहा है कि लॉकडाउन के दौरान क्रिकेट से दूर रहने के बाद सभी खिलाड़ियों को इस बात का अहसास हो गया है कि वो इस खेल से कितना प्यार करते हैं।

महीनों घर पर बंद रहने के बाद दुबई पहुंचकर आईपीएल के लिए तैयारी के बारे में चर्चा करते हुए अय्यर ने कहा, इमानदारी से कहूं तो पहले जैसी लय हासिल करना किसी भी तरह आसान नहीं था। यहां की उमस ने स्थितियों को और खराब कर दिया बावजूद इसके मैं होटल के एयर-कंडीशन्ड कमरे में रहने के बजाय खेलना पसंद करूंगा।'

लय पाने में लगे दो अभ्यास सत्र 
दिल्ली के कप्तान ने कहा, मुझे अपनी लय वापस हासिल करने में वक्त लगा दूसरे अभ्यास सत्र के बाद मैंने धीरे-धीरे इसे वापस हासिल कर लिया। आप नेट्स और मैदान पर खिलाड़ियों का जोश देश सकते हैं। बल्लेबाज मैदान की सभी दिशाओं में शॉट्स खेल रहे हैं, तेज गेंदबाजों का इंजन गर्म हो चुका है वहीं स्पिनर्स गेंद को सही जगह डाल पा रहे हैं।' अय्यर ने आगे कहा, लंबे समय तक खेल से दूर रहने के कारण हमारा लगाव इसके साथ बढ़ गया है। खेल से दूर रहने के बाद हमें इस बात का अहसास हुआ कि हम वाकई में इस खेल से कितना अधिक प्यार करते हैं।'



ऐसा रहा 6 दिन के क्वारंटीन का हाल 
बीसीसीआई द्वारा टूर्नामेंट के लिए बनाए गए नियमों के मुताबिक सभी टीमों के खिलाड़ियों को यूएई पहुंचने के बाद छह दिन के लिए क्वारंटीन रहना था इस दौरान कोराना के तीन टेस्ट के परिणाम निगेटिव आने के बाद ही खिलाड़ियों को बायो बबल में प्रवेश करने की अनुमति थी। कोरोना जांच का रिजल्ट निगेटिव आने के बाद ही खिलाड़ियों को अभ्यास के लिए मैदान पर उतरने की अनुमति थी। ऐसे में होटल के कमरे में अकेले छह दिन बिताने का अनुभव अय्यर ने साझा किया है।

बोर्ड परीक्षा के परिणाम जैसा था कोरोना टेस्ट रिजल्ट का इंतजार
अय्यर ने इस बारे में कहा, एक सप्ताह के लिए हम अपने अपने कमरों में बंद थे। इस दौरान मैं बंद कमरे में रूम वर्कआउट करने में व्यस्त था। हमारे कंडिश्निंग कोच रजनी वीडियो कॉल के जरिए हमसे जुड़े थे। शाम के समय मैं नेटफ्लिक्स देखने जुट जाता था। इस दौरान में केवल कमरे से बाहर कोरोना टेस्ट कराने के लिए आया। यकीन मानिए कई बार तो बाहर निकलने से पहले मुझे अपने ऊपर परफ्यूम छिड़कना पड़ता था। 10 मिनट बाद नम आंखों के साथ हमें कमरे में वापस आते थे। यहां पहुंचने के बाद हमारे कई बार कोरोना टेस्ट हुए अब तो हर कोई इसका आदी हो गया है। हमारे टीम मैनेजर हमें लगातार बताते थे कि अगले दिन सुबह जांच के नतीजे आने वाले हैं और हर किसी को बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट की तरह कोरोना टेस्ट के रिजल्ट का  इंतजार होता था।'

मुंबई इंडियन्स और चेन्नई सुपक किंग्स के बीच 19 सितंबर को होने वाले मुकाबले के साथ आईपीएल 2020 का आगाज हो जाएगा। इसके बाद दिल्ली कैपिटल्स की टीम अपने अभियान की शुरुआत 20 सितंबर को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ करेगी। 

IPL(आईपीएल) 2020 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर