आरसीबी के खिलाफ चेन्नई की हार का धोनी ने इनके सिर पर फोड़ा ठीकरा 

MS Dhoni ka bayan: महेंद्र सिंह धोनी ने चेन्नई सुपर किंग्स की रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ हार का ठीकरा बल्लेबाजों पर फोड़ा है। जानिए उन्होंने आरसीबी के खिलाफ हार के बाद क्या कहा?

MS-Dhoni-Virat-Kohli
एमएस धोनी और विराट कोहली(साभार IPL) 
मुख्य बातें
  • दसवें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को मिली सातवीं हार, मुश्किल हुई प्लेऑफ की राह
  • आरसीबी के खिलाफ नहीं हासिल कर पाई जीत के लिए 174 रन का लक्ष्य
  • अच्छी शुरुआत के बाद नियमित अंतराल में गंवाए विकेट, फिसल गया हाथ से मैच

पुणे: एमएस धोनी की कप्तानी में पिछले मैच में जीत हासिल करने वाली चेन्नई सुपर किंग्स को बुधवार को आरसीबी के खिलाफ मुकाबले में 13 रन के करीबी अंतर से हार का सामना करना पड़ा। जीत के लिए मिले 174 रन के लक्ष्य को धोनी के धुरंधर हासिल नहीं कर पाए। सीएसके 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 160 रन बना सकी। इस हार के साथ डिफेंडिंग चैंपियन चेन्नई के 10 मैच में 3 जीत और 7 हार के साथ कुल 6 अंक हो गए हैं। उसकी प्लेऑफ में पहुंचने की संभावनाएं भी तकरीबन खत्म हो चुकी है।

अच्छी बल्लेबाजी करते तो नहीं मिलती हार 
ऐसे में हार के बाद धोनी ने हार का ठीकर चेन्नई के बल्लेबाजों पर फोड़ा और कहा कि हमें बल्लेबाजों ने निराश किया। धोनी ने कहा, हमने अच्छी गेंदबाजी की और उन्हें 170 रन के आसपास रोकने में सफल रहे। हमें बल्लेबाजों की वजह से इस मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा।'

रखना होता है अपनी भावनाओं पर काबू
धोनी ने आगे कहा,  मुझे लगता है कि जब आप लक्ष्य का पीछा कर रहे होते हैं तब आपको ये पता होता है कि स्कोर कितना होना चाहिए और गेंदबाज क्या कर रहे हैं। कई बार आपको अपनी भावनाओं पर काबू करके यह देखना होता है कि परिस्थिति कैसी है और उसके हिसाब से निर्णय करना होता है, अपने मन से शॉट्स नहीं खेलने होते हैं। अगर हम थोड़ी सी अच्छी बल्लेबाजी करते तो हमें आखिरी के ओवरों में हमारे सामने इतने अधिक रन बनाने के लिए नहीं होते।

अच्छी शुरुआत के बाद गंवाए लगातार विकेट
सीएसके के कप्तान ने कहा, लक्ष्य का पीछा करते हुए हमने अच्छी शुरुआत की थी, हमारे हाथों में विकेट थे लेकिन इसके बाद हम लगातार विकेट गंवाते गए और मैच हमारे हाथों से निकल गया। आपको लक्ष्य का पीछा करते वक्त इन बातों को ख्याल रखना चाहिए। लक्ष्य का पीछा करना कैलकुलेशन का जबकि पहले बल्लेबाजी करना सूझबूझ का काम है। एक बल्लेबाज के रूप में मैदान पर आपको इन सभी बातों का निर्णय करना होता है। 

हमसे कहां हो रही है चूक
धोनी ने अंत में कहा, हमें इस बात पर नजर रखे की जरूरत है कि हमसे कहां चूक हो रही है। आपके खाते में कितने अंक हैं, इससे विचलित होना आसान है। यह वह प्रक्रिया है जो अंक तालिका में आपकी स्थिति से अधिक मायने रखती है। अगर आप उन बातों पर ध्यान देंगे तो अंक-तालिका अपने आप सही गो जाएगी।

Times Now Navbharat पर पढ़ें IPL 2022 News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर