'मैंने कुछ मैचों में अच्छा प्रदर्शन क्यों नहीं किया', जब चहल का बढ़ गया सिरदर्द और दोस्तों ने इस तरह की मदद

क्रिकेट
भाषा
Updated Jul 26, 2021 | 10:59 IST

युजवेंद्र चहल कुछ समय पहले कई मैचों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए थे, जिससे स्पिनर काफी फ्रिक्रमंद हो गया था। ऐसे में चहल के दोस्तों ने उनका सिरदर्द कम करने में मदद की।

Yuzvendra Chahal
युजवेंद्र चहल  |  तस्वीर साभार: AP, File Image

मुख्य बातें

  • स्पिनर युजवेंद्र चहल इस वक्त श्रीलंका दौरे पर हैं
  • उन्होंने वनडे सीरीज में काफी प्रभावी प्रदर्शन किया
  • वह अब श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज खेल रहे हैं

कोलंबो: भारतीय टीम में जगह बनाने के लिये कड़ी प्रतिस्पर्धा को देखते हुए लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल प्रत्येक अवसर का पूरा फायदा उठाना चाहते हैं ताकि वह टी20 विश्व कप से पहले टीम में अपना स्थान पक्का कर सकें। श्रीलंका के खिलाफ सीमित ओवरों की वर्तमान श्रृंखला के दौरान अच्छा प्रदर्शन करके चहल बीच में स्थगित कर दिये गये इंडियन प्रीमियर लीग में खराब प्रदर्शन से उबर गये हैं। चहल ने भारत की पहले टी20 में श्रीलंका पर 38 रन से जीत के बाद कहा, 'निश्चित तौर पर स्वस्थ प्रतिस्पर्धा हैं। यदि आपके पास लगभग 30 खिलाड़ियों का समूह है तो निश्चित तौर पर सभी अच्छे खिलाड़ी है। सभी स्पिनर अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। एक स्पिनर के तौर पर आप जानते हैं कि कम से कम दो स्पिनर तैयार हैं जिन्होंने यहां और आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन किया।'

'अच्छा प्रदर्शन करने खेलने का मौका मिलेगा'

उन्होंने कहा, 'मैं यही कर सकता हूं कि प्रत्येक मौके पर अच्छा प्रदर्शन करूं। यदि आप अच्छा प्रदर्शन करते हो तो आपको खेलने का मौका मिलेगा और यदि नहीं करते हो तो फिर चाहें मैं हूं या कोई और आपको बाहर बैठना पड़ेगा।' चहल ने कहा, 'इसलिए जब भी गेंद मेरे हाथ में होती है, तो मैं दूसरों के बारे में नहीं सोचता तथा केवल अपने खेल पर ध्यान केंद्रित करता हूं।' टी20 विश्व कप अक्टूबर – नवंबर में यूएई में खेला जाएगा। चहल ने श्रीलंका के खिलाफ पहले टी20 में चार ओवर में 19 रन देकर एक विकेट लिया। उन्होंने लॉकडाउन के दौरान की अपनी दिनचर्या के बारे में बताया।

'दोस्तों संग अभ्यास किया कि कहां गेंद करूं'

उन्होंने कहा, 'जब मैं खेल नहीं रहा था तो मैंने अपने गेंदबाजी कोच के साथ काफी कड़ी मेहनत की। मैं यह जानना चाहता था कि मैंने कुछ मैचों में अच्छा प्रदर्शन क्यों नहीं किया। इसलिए मैंने लॉकडाउन के दौरान इन चीजों पर काम किया।' चहल ने कहा, 'मैंने एक विकेट को लक्ष्य बनाकर गेंदबाजी की। अपने दोस्तों के साथ अभ्यास किया कि मुझे कहां गेंद करनी चाहिए। इस तरह की गेंदबाजी मेरा मजबूत पक्ष रहा है। मैंने इस दौरे पर आने से पहले स्वयं से कहा कि मैं अच्छा प्रदर्शन कर सकता हूं।' चहल ने कहा कि वह जितने आत्मविश्वास से भरे रहते हैं उतना ही अच्छा प्रदर्शन करते हैं।

'मैं आत्मविश्वास के साथ अच्छा प्रदर्शन करता हूं'

उन्होंने कहा, 'लॉकडाउन के दौरान मैंने अपनी गेंदबाजी की समीक्षा की लेकिन मैं बहुत अधिक बदलाव नहीं करना चाहता था। मैंने भरत अरुण सर से बात की और यहां पारस महाम्ब्रे सर और राहुल द्रविड़ सर के साथ बैठकर अपनी गेंदबाजी पर बात की। मैंने अपने वीडियो भी देखे।' चहल ने कहा कि इस बीच उन्होंने पूर्व भारतीय ऑफ स्पिनर जयंत यादव से भी बात की। उन्होंने कहा, 'लॉकडाउन में हम कोविड के कारण मैदान पर नहीं जा सकते थे लेकिन मुझे अपने गृहनगर में मैदान पर जाने के तीन मौके मिले और मैंने तब जयंत यादव के साथ अभ्यास किया जिनके साथ मैं बचपन से खेल रहा हूं। मैंने उन्हें गेंदबाजी की और इस पर चर्चा भी की। मुख्य बात यह है कि मैं जितना आत्मविश्वास के साथ गेंदबाजी करता हूं उतना अच्छा प्रदर्शन करता हूं।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर