ये क्‍या! जिस वजह से हेडिंग्‍ले टेस्‍ट हारी टीम इंडिया, कप्‍तान कोहली उस पर ध्‍यान देने को नहीं हैं तैयार

Virat Kohli on batting collapse in Headingley: भारतीय टीम के बल्‍लेबाजों का हेडिंग्‍ले टेस्‍ट की दोनों पारियों में प्रदर्शन खराब रहा। भारतीय कप्‍तान विराट कोहली ने फिर भी ऐसा बयान दिया।

virat kohli
विराट कोहली  |  तस्वीर साभार: AP
मुख्य बातें
  • भारतीय टीम को हेडिंग्‍ले टेस्‍ट में एक पारी और 76 रन की शिकस्‍त मिली
  • टीम इंडिया के बल्‍लेबाजों का दोनों पारियों में प्रदर्शन खराब रहा
  • कप्‍तान विराट कोहली ने अतिरिक्‍त बल्‍लेबाज पर दिया ये बयान

हेडिंग्‍ले: भारतीय टीम को इंग्‍लैंड के हाथों तीसरे टेस्‍ट में एक पारी और 76 रन की करारी शिकस्‍त झेलनी पड़ी। भारतीय टीम ने शुरूआती दो टेस्‍ट में अच्‍छा प्रदर्शन किया, लेकिन तीसरे टेस्‍ट में उसके बल्‍लेबाजों ने काफी निराश किया। इस जीत के साथ इंग्‍लैंड ने पांच मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर की। अब यह देखना दिलचस्‍प होगा कि चौथे टेस्‍ट में टीम इंडिया क्‍या कमाल करेगी। 

भारतीय टीम के बल्‍लेबाजों का लचर प्रदर्शन देखते हुए कई फैंस व एक्‍सपर्ट्स ने मांग की है कि चौथे टेस्‍ट में भारत को अतिरिक्‍त बल्‍लेबाज को उतारना चाहिए। विराट कोहली की टीम अब तक सीरीज में पांच विशेषज्ञ बल्‍लेबाजों और विकेटकीपर रिषभ पंत व रवींद्र जडेजा के साथ मैदान संभाल रही थी। भारतीय टीम के इसी बल्‍लेबाजी क्रम ने पहले दो मैचों में प्रभावित किया। मगर तीसरे टेस्‍ट में वह पूरी तरह फ्लॉप हुए। 

भारतीय टीम की तरफ से मांग आ रही है कि हनुमा विहारी या सूर्यकुमार यादव में से किसी एक को अगले टेस्‍ट में मौका दिया जाए। हालांकि, कप्‍तान विराट कोहली इस पर विश्‍वास नहीं करते हैं। 32 साल के कोहली ने तीसरे टेस्‍ट के बाद कहा कि अगर पूरा बल्‍लेबाजी क्रम फ्लॉप हो जाए तो अतिरिक्‍त बल्‍लेबाज को जोड़ने से कुछ गारंटी नहीं मिलती है। कोहली ने साथ ही जोर दिया कि उनकी टीम का पहला लक्ष्‍य टेस्‍ट मैच जीतना होता है। इसलिए चौथे गेम में भी भारतीय टीम 7-4 के संयोजन के साथ उतर सकती है।

मेरा उस पर विश्‍वास नहीं: कोहली

विराट कोहली ने हेडिंग्‍ले टेस्‍ट के बाद कहा, 'मेरा उस संतुलन पर विश्‍वास नहीं है। मैंने कभी उस संतुलन पर विश्‍वास नहीं किया। आप कोशिश कर सकते हो या हार बचा सकते हो। या फिर आप कोशिश करके मैच जीत सकते हो। हमने इतने ही बल्‍लेबाजों के साथ मैच ड्रॉ कराए हैं। तो अगर आपके शीर्ष 6 या 7 बल्‍लेबाज प्रदर्शन नहीं करते तो अतिरिक्‍त व्‍यक्ति की गारंटी नहीं कि आपको मुसीबत से बाहर निकालकर ही रहेगा।'

उन्‍होंने आगे कहा, 'आपको यह टीम के रूप में स्‍वीकार करना होगा। आपको जिम्‍मेदारी लेने की जरूरत है और उसे निभाते हुए गर्व महसूस होना चाहिए। अगर आपमें 20 विकेट लेने की क्षमता या संसाधन नहीं तो आप सिर्फ दो नतीजों के लिए खेल रहे हैं। हम इसी तरह खेलते हैं।' भारत और इंग्‍लैंड के बीच चौथा टेस्‍ट 2 सितंबर से शुरू होगा। अब देखना होगा कि सीरीज में कौन सी टीम 2-1 से बढ़त बनाएगी।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर