गांगुली की नजर में सहवाग, युवराज और धोनी के स्तर के खिलाड़ी हैं पंत, बताई बल्लेबाज की सबसे बड़ी काबिलियत

Sourav Ganguly on Rishabh Pant: इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज समाप्त होने के बाद सौरव गांगुली ने भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत की तारीफ की है। उन्होंने बल्लेबाज की सबसे बड़ी काबिलियत बताई है।

Sourav Ganguly Rishabh Pant
सौरव गांगुली और रिषभ पंत 

ऑस्ट्रेलिया में मैच विनिंग पारियां खेलने के बाद विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ भी काफी सुर्खियां बटोरीं। उन्होंने अंग्रेजों के विरुद्ध चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 6 पारियों में एक शतक और अर्धशतक की बदौलत 270 रन बनाए। वह सीरीज में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की फेहरिस्त में तीसरे नंबर पर रहे। वहीं, चौथे टेस्ट में पंत की दमदार शतकीय पारी को कौन भूल सकता है? उनके द्वारा मुश्किल वक्त में खेली गई 118 गेंदों में 101 की पारी ने सिर्फ टीम को लड़खड़ाने से बचाया बल्कि भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई।

सौरव गांगुली ने पंत को सराहा

रिषभ पंत को अहम मौकों पर टिककर बल्लेबाजी करने के लिए पूर्व दिग्गज क्रिकेटर्स और विशेषज्ञों से खूब तारीफें मिल रही हैं। कोई कह रहा है कि मैंने ऐसा निडर बल्लेबाज नहीं देखा तो किसी ने कहा कि वह भविष्य के स्टार खिलाड़ी हैं। इस बीच भारत के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भी पंत की सराहना की है। गांगुली की नजर में पंत पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग, पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह और पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र धोनी के स्तर के खिलाड़ी हैं। गांगुली ने पंत को मैच विनर और गेम चेंजर खिलाड़ी बताया है। 

'रिषभ पंत गेम चेंजर खिलाड़ी है'

सौरव गांगुली ने इंडिया टुडे से बातचीत में कहा, 'मैंने रिषभ पंत को बहुत करीब से देखा है। मैं हमेशा मैच विनर्स पर यकीन करता हूं। जब उनका दिन होता है तो वे अपने दम पर मैच जीत सकते हैं। पंत भी ऐसा ही खिलाड़ी है।' उन्होंने आगे कहा, 'मैंने पहले भी यह कहा था कि अगर वह 5 या 6 ओवरों तक क्रीज पर रहता तो भारत सिडनी टेस्ट (ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच ड्रॉ पर छूटा) जीत सकता था। वह गेम चेंजर है। मुझे मैच विनर्स पसंद हैं। मेरे दौर में भारतीय टीम में वीरेंद्र सहवाग, युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी थे।' बता दें कि गांगुली आईपीलीए फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्स के मेंटर रह चुके हैं और पंत इस टीम का कई सालों से हिस्सा हैं। 

ऑस्ट्रेलिया में भी खुद को साबित किया

गौरतलब है कि साल 2019 विश्व कप के बाद पंत की परफॉर्मेंस में तेजी से गिरावट आई थी। 23 वर्षीय बल्लेबाज के लिए साल 2020 काफी मुश्किल भरा रहा। उन्हें भारत की सीमित ओवरों की टीम से भी बाहर रास्ता दिखाया दिया गया। उन्हें प्लेइंग इलेवन में वापस आने के लिए बहुत मशक्कत करनी पड़ी। उन्हें पिछले साल ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच में मौका मिला, जिसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं दिखा। उन्होंने तीसरे टेस्ट में भारत को हार से बचाया जबकि चौथे और आखिरी टेस्ट में नाबाद 89 रन की मैच विनिंग पारी खेली।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर