सचिन तेंदुलकर ने दिखाई दरियादिली, कमजोर तबके के बच्‍चों के इलाज में की मदद

Sachin Tendulkar: सचिन तेंदुलकर विश्‍व बाल दिवस के दिन यूनिसेफ की पहल में हिस्‍सा लेंगे, जो बच्‍चों को प्रोत्‍साहित करेगा कि वह दुनिया के भविष्‍य को आकार देने में अहम भूमिका निभाए।

sachin tendulkar
सचिन तेंदुलकर 

मुख्य बातें

  • सचिन ने महामारी के बीच छह राज्यों में कमजोर तबके के 100 बच्चों के उपचार में मदद की
  • इस महीने की शुरूआत में तेंदुलकर ने असम के माकुंदा अस्पताल में शिशु रोग विभाग में उपकरण दिये थे
  • सचिन तेंदुलकर विश्‍व बाल दिवस के मौके पर यूनिसेफ की पहल में हिस्‍सा लेंगे

मुंबई: चैंपियन क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने कोरोना वायरस महामारी के बीच छह राज्यों में कमजोर तबके के 100 बच्चों के उपचार में मदद की। उन्होंने 'एकम' फाउंडेशन के साथ महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, असम, कर्नाटक, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के बच्चों के इलाज में मदद की, जो सरकारी और ट्रस्ट के अस्पतालों में हुआ। गंभीर बीमारियों से जूझ रहे ऐसे बच्चों की उन्होंने मदद की जो उपचार का खर्च उठाने में सक्षम नहीं है।

इस महीने की शुरूआत में उन्होंने असम के माकुंदा अस्पताल में शिशु रोग विभाग में उपकरण दिये थे, जिससे हर साल दो हजार से अधिक बच्चों को फायदा होगा। एकम फाउंडेशन के मैनेजिंग पार्टनर अमीता चैटर्जी ने कहा, 'सचिन तेंदुलकर का अपने फाउंडेशन के साथ जुड़ना सौभाग्‍य की बात है और स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल पर उन्‍होंने कुछ खास काम किया है। इस जुड़ाव के बाद जो उपचार का खर्च उठाने में सक्षम नहीं है, उनकी मदद की जाएगी।'

सचिन तेंदुलकर विश्‍व बाल दिवस के मौके पर यूनिसेफ की पहल में हिस्‍सा लेंगे, जो बच्‍चों को प्रोत्‍साहित करेगा कि वह दुनिया के भविष्‍य को आकार देने में अहम भूमिका निभाए।

ऑटो वाले से मिली थी मदद

हाल ही में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व महान बल्लेबाज मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने जनवरी 2020 का एक वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है जिसमें वो अपना हाल बयां करते नजर आ रहे हैं।

इस वीडियो की शुरुआत में सचिन तेंदुलकर एक ट्रैफिक सिग्नल पर हैं और कहते हैं, 'मैं कांदिवली ईस्ट में हूं और क्या आप विश्वास कर सकते हैं, मैं यहां खो गया हूं। क्योंकि ये वनवे रोड है और हर जगह काम चल रहा है, मैं खो गया हूं। मैं इस ऑटोरिक्शा के पीछे-पीछे जा रहा हूं। चालक ने मुझे देखा और मुझे कहा कि मेरे पीछे आओ मैं तुम्हें पहुंचा देता हूं।'

इसके बाद सचिन ने पूरा वीडियो दिखाया जहां ऑटोवाला उनको पूरा रास्ता समझाते दिखता है। बाद में आगे जाने के बाद जब सचिन को रास्ता मिल जाता है तो ऑटोवाला उनकी गाड़ी को रोकते हुए सचिन के साथ सेल्फी लेता है, सचिन भी उसको शुक्रिया कहते हैं। सचिन ने कहा कि मैं खुद से ये रास्ता नहीं खोज पाता। अब मुझे पता है कि कहां जाना है। सचिन तेंदुलकर इन दिनों ज्यादातर समय अपने परिवार के साथ बिता रहे हैं और मुंबई में कोविड-19 की स्थिति को देखते हुए वो ज्यादा बाहर नहीं निकलते।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर