कोरोना जांच विवाद पर बोले शोएब अख्तर, मोहम्मद हफीज को नहीं करना चाहिए था ऐसा  

PCB Covid-19 test controversy: पाकिस्तानी टीम के इंग्लैंड दौरे पर रवाना होने से पहले हुए कोरोना जांच विवाद पर शोएब अख्तर ने अपनी राय जाहिर करके कहा है कि मोहम्मद हफीज को नहीं करना चाहिए था ऐसा।

Mohammad Hafeez
मोहम्मद हफीज  

मुख्य बातें

  • पाकिस्तानी टीम के इंग्लैंड दौरे पर रवाना होने से पहले खिलाड़ियों की कोरोना जांच को लेकर हुआ था विवाद
  • मोहम्मद हफीज पीसीबी की जांच में पाए गए थे पॉजिटिव और निजी जांच में निगेटिव
  • हफीज ने सोशल मीडिया पर साझा कर दी थी अपनी निजी जांच रिपोर्ट, जिसे लेकर हुआ था विवाद

कराची: पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का लगता है कि पाकिस्तान के सीनियर खिलाड़ी मोहम्मद हफीज को कोविड जांच के मामले में पीसीबी से आमना-सामना करना चाहिए था। लेकिन उन्हें निजी स्तर पर कराई कोरोना चांज रिपोर्ट को सोशल मीडिया पर साझा नहीं करना चाहिए था। हफीज द्वारा निजी स्तर पर कराई कोराना का जांच परिणाम पीसीबी द्वारा आधिकारिक रूप से कराए गए जांच परिणाम से मेल नहीं खाया था।

हफीज उन 10 पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ियों में से एक थे जिन्हें कोरोना जांच में पॉजिटिव पाया गया था। लेकिन उन्होंने इस मामले में निजी स्तर पर जांच कराना उचित समझा जिसका परिणाम निगेटिव आया। हालांकि हफीज द्वारा निजी स्तर पर कोरोना की जांच कराए जाने के फैसले को पीसीबी ने सही नहीं ठहराया। पीसीबी के सीईओ वसीम खान ने ऐसा करने से पहले बोर्ड की सलाह नही लेने के लिए उनकी लताड़ भी लगाई। 

पीसीबी ने दिखाया कुप्रबंधन
ऐसे में शोएब अख्तर ने कहा, पीसीबी ने इस मामले में थोड़ा कुप्रबंधन दिखाया। हमने ऐसे ही बेतरतीब तरीके से खिलाड़ियों की कोरोना जांच करनी शुरू की। अब खिलाड़ियों के रिजल्ट पॉजिटिव आ गए। जहां तक है कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र लाहौर और फिर कराची है। मुझे इस बात का पूरा यकीन है कि यदि आप लगातार टेस्ट करते जाएंगे तो आपको ज्यादा से ज्यादा पॉजिटिव रिजल्ट मिलते जाएंगे। 

ट्विटर पर साझा नहीं करनी चाहिए थी जांच
अब जब टेस्ट हो चुके हैं तो मेरी हफीज को सलाह होती कि वो दोबारा टेस्ट करवाएं। लेकिन इसके बाद उन्हें जांच की दूसरी रिपोर्ट ट्विटर पर शेयर नहीं करना चाहिए थी। उसे पीसीबी से भिड़ना चाहिए था। आपके बोर्ड के साथ रिश्ते खराब नहीं होने चाहिए। पाकिस्तानी टीम के लिए इंग्लैंड का दौरा बेहद अहम है। यदि हमें ये टेस्ट सीरीज जीतनी है तो अपनी मजबूत टीम हमें वहां भेजनी चाहिए। 

पीसीबी की दूसरी जांच में 10 में से 6 खिलाड़ी आए निगेटिव
हालांकि हफीज उन छह पाकिस्तानी खिलाड़ियों में शामिल हैं जो पीसीबी द्वारा दोबारा कराई गई जांच में निगेटिव पाए गए। हफीज और 10 अन्य खिलाड़ी रविवार को उस पाकिस्तानी दल के साथ इंग्लैंड रवाना नहीं हो सके जो पीसीबी द्वारा पहली बार कराई गई जांच में निगेटिव पाए गए थे। रविवार को 20 खिलाड़ी और सपोर्ट स्टाफ के 11 सदस्य इंग्लैंड रवाना हुए। अब बाकी के 10 खिलाड़ी और सपोर्ट स्टाफ के सदस्यों की फिर से जांच की जाएगी और बाद में कोविड 19 जांच के नतीजे निगेटिव आने के बाद उन्हें इंग्लैंड भेजा जाएगा। 

गुरुवार को पीसीबी द्वारा की गई जांच में जो खिलाड़ी निगेटिव पाए गए उसमें  फखर जमान, मोहम्मद हसनैन, मोहम्मद हफीज, मोहम्मद रिजवान, शादाब खान और वहाब रियाज शामिल हैं। इनके अलावा जांच में दोबारा से जो खिलाड़ी पॉजिटिव पाए गए हैं उसमें हैदर अली, हारिस रउफ, काशिफ भट्टी और इमरान खान शामिल हैं। सपोर्ट स्टाफ में शामिल मलंग अली भी पॉजिटिव पाए गए हैं। 

अगली खबर