न्‍यूजीलैंड क्रिकेट में आया भूचाल, क्रिकेटर की नाक जख्‍मी की, मुंह पर मुक्‍का मारकर मैदान में गिराया

New Zealand cricket: क्रिकेटर को इतनी गहरी चोट लगी कि वह पार्ट टाइम टैक्‍सी चलाकर जो कमाई करता था, उस दिन नहीं कर सका। जानिए मैच के दौरान क्रिकेटरों के बीच मारपीट क्‍यों हुई।

arshad basheer
अर्शद बशीर 

मुख्य बातें

  • न्‍यूजीलैंड में खेले गए कम्‍युनिटी मैच के दौरान क्रिकेटरों के बीच हुई मारपीट
  • अर्शद बशीर की नाक जख्‍मी हुई और उन्‍हें चेहरे पर मुक्‍का मारा गया
  • वाइड गेंद पर दो क्रिकेटरों के बीच हुआ इतना बड़ा विवाद

ऑकलैंड: 41 साल के अर्शद बशीर को कनकशन में जाना पड़ा क्‍योंकि शनिवार को कम्‍युनिटी क्रिकेट मैच के दौरान उनके चेहरे पर विरोधी खिलाड़ी ने जोरदार मुक्‍का जमा दिया। पकुरुंगा में लॉयड एल्‍समोर पार्क में मैच के दौरान क्रिकेटर की नाक जख्‍मी कर दी गई और उनके चेहरे पर मुक्‍के का निशान भी स्‍पष्‍ट दिखा। यह घटना तब की है जब बशीर सबर्ब्‍स न्‍यू लिन क्रिकेट क्‍लब के लिए गेंदबाजी कर रहे थे।

उनकी विरोधी टीम के बल्‍लेबाज के साथ बहस हुई कि वाइड गेंद थी या नहीं। तब बशीर ने हॉविक पकुरुंगा क्रिकेट क्‍लब के बल्‍लेबाज से कहा कि बैमानी नहीं करो। बशीर ने बताया कि एक खिलाड़ी उनके पास आया और पूछा फिर से बोल क्‍या बोला। इसके बाद उस क्रिकेटर ने बशीर के चेहरे पर मुक्‍का जमा दिया। मुक्‍का खाने के बाद बशीर मैदान पर ही गिर गए और कुछ मिनटों के लिए आपा खो बैठे।

ऑकलैंड क्रिकेट में विवाद

बशीर के हवाले से स्‍टफ डॉट को डॉट एनजेड ने कहा, 'उसने दोनों हाथों से मेरी गर्दन पकड़ी। मैंने खुद को छुड़ाने का प्रयास किया तो अगले ही पल उसने मुझे मुक्‍का जड़ दिया।' बशीर ने यह पूरी घटना शनिवार रात ए एंड ई में बिताने के बाद पुलिस को बताई। इस दुर्घटना का मतलब रहा कि बशीर शाम को टैक्‍सी चलाने का पार्ट टाइम काम करते हैं, जिससे उनकी कमाई 200 से 300 डॉलर के बीच हो जाती है, उस दिन वह टैक्‍सी नहीं चला पाए।

एक प्रवक्‍ता के मुताबिक जांच शुरू हो चुकी है, लेकिन अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। इस बीच बशीर ने कहा कि वह चाहते हैं कि उस खिलाड़ी पर प्रतिबंध लगे और उन्‍होंने उसके रवैये को अस्‍वीकार्य करार दिया।  ऑकलैंड क्रिकेट के कम्‍युनिटी क्रिकेट मैनेजर डीन बार्टलेट ने कहा कि बोर्ड ने इस मामले में दोनों क्‍लबों से बातचीत की है। उन्‍होंने साथ ही कहा कि ऑकलैंड क्रिकेट जांच में पुलिस की पूरी मदद करने को तैयार है।

उन्‍होंने कहा, 'यह हमारी समझ है कि एक खिलाड़ी को आतंरिक रूप से उसके क्‍लब में अनिश्चितकालीन समय के लिए हटाया जा सकता है और इसी वजह से वह शेष सीजन में हिस्‍सा नहीं लेगा। एक बार पुलिस इस मामले को बंद कर दे तो उसके बाद हम अपनी न्‍यायिक प्रक्रिया चालू करेंगे, जिसमें ऑकलैंड क्रिकेट जूडिशियल पैनल इसकी सुनवाई करेगा।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर