जिसका इंग्लैंड में है खराब रिकॉर्ड, वकार यूनिस को है उस खिलाड़ी से है चमत्कार की आस 

Waqar Younis expects Azhar Ali to delive: पाकिस्तान क्रिकेट टीम के गेंदबाजी कोच वकार यूनिस को अगले दो टेस्ट मैच में अपनी टीम के दिग्गज खिलाड़ी से चमत्कार की आस है जिसका इंग्लैंड में रिकॉर्ड खराब है।

Azher ali
अजहर अली  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • इंग्लैंड में अजहर अली ने महज 27.95 के औसत से बनाए हैं रन
  • इंग्लैंड में पिछली 6 पारियों में बल्ले से निकला है केवल एक अर्धशतक
  • इंग्लैंड में पिछले 3 टेस्ट की 6 पारियों में अजहर अली का रहा है 14.16 का औसत

साउथैम्पटन: पाकिस्तानी क्रिकेट टीम को इंग्लैंड के खिलाफ मैनचेस्ट में खेले गए सीरीज के पहले टेस्ट मैच में 3 विकेट के अंतर से हार का सामना करना पड़ा था। जीती हुई बाजी टीम के गंवाने के बाद टीम के कप्तान अजहर अली की जमकर आलोचना भी हुई थी। पहला टेस्ट अजहर के लिए बतौर कप्तान और बल्लेबाज नाकाम रहा था। हार के बाद वो पूर्व पाकिस्तानी दिग्गजों को निशाने पर आ गए थे। इंजमाम उल हक ने तो हार को कप्तान और टीम की बेवकूफी का नतीजा करार दिया था। 

ऐसे में दूसरे टेस्ट से पहले टीम के गेंदबाजी कोच वकार यूनिस ने कप्तान अजहर अली का बचाव किया है। पहले टेस्ट की पहली पारी में अजहर जहां अपना खाता नहीं खोल पाए थे वहीं दूसरी पारी में टीम के संघर्ष के बीच उन्होंने 18 रन की पारी खेली थी। ऐसे में वकार को यकीन है कि टीम के कप्तान अपने खराब फॉर्म से उबरकर दूसरे टेस्ट में रनों का सूखा खत्म करने में सफल रहेंगे। सीरीज में 0-1 से पिछड़ रही पाकिस्तानी टीम के लिए यह करो या मरो का मुकाबला है। अगर पाकिस्तान ये मैच गंवा देती है तो सीरीज भी उसके हाथ से निकल जाएगी। 

वकार यूनिस को आशा है कि अजहर अली सीरीज के अंतिम 2 टेस्ट में बल्ले से धमाल मचाने में सफल रहेंगे। वकार का मानना है कि कप्तान होने के साथ -साथ ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी करना आसान नहीं होता है। वो पहले भी टीम की कमान संभाल चुके हैं और इस जिम्मेदारी को अच्छी तरह समझते हैं। जब आपका फॉर्म खराब होता है और कोई मैच आपके लिए खराब जाता है तो आपकी आलोचना होती है। मैं खुद भी कप्तान रहा हूं ऐसे में मुझे मालूम है कि कप्तान के कंधों पर बहुत सी जिम्मेदारियां होती हैं और उसे बहुत जगह अपना ध्यान केंद्रित करना होता है। 

वकार ने आगे कहा, अगर हम पहला मैच जीत जाते तो उन्हें बहुत आत्मविश्वास मिलता। लेकिन वो एक परपक्व खिलाड़ी हैं और तकरीबन 80 टेस्ट मैच खेल चुके हैं उनके पास इंग्लैंड में खेलने का भी अनुभव है। उन्हें मालूम है कि ऐसी परिस्थिति से बाहर कैसे निकला जाता है। मुझे आशा है कि वो अगले दो टेस्ट मैच में अच्छा प्रदर्शन करने में सफल रहेंगे।'

इंग्लैंड में खराब है अजहर अली का रिकॉर्ड 
साल 2010 में लॉर्ड्स के मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डेब्यू करने वाले अजहर ने अपने करियर में अब तक खेले 79 टेस्ट मैच में से यूएई के अलावा सबसे अधिक मैच इंग्लैंड में खेले हैं। इंग्लैंड में खेले 13 टेस्ट मैच की 26 पारियों में वो 27.95 की औसत से महज 671 रन बना सके हैं जिसमें एक शतक और तीन अर्धशतक शामिल हैं। उनका इंग्लैंड में सर्वाधिक स्कोर 139 रन है। इंग्लैंड की धरती पर आखिरी अर्धशतक उन्होंने साल 2018 में लॉर्ड्स टेस्ट की पहली पारी में जड़ा था। पिछले इंग्लैंड दौरे पर वो चार पारियों में 50, 4, 2, 11 रन का पारी खेल सके थे। पिछले दौरे पर चार पारियों में अजहर अली 16.75 की औसत से कुल 67 रन बना सके थे। 2016 का दौरा उनके लिए अच्छा रहा था उसमें उन्होंने 85.33 की औसत से 256 रन बनाए थे। 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर