Varanasi: बलिया में खेत में टूटे पड़े बिजली के तार की चपेट में आने से जीजा-साले की मौत

Accident In Ballia: बलिया में हाईटेंशन लाइन के करंट की चपेट में आने से जीजा और साले की मौत हो गई। घटना के बाद गुस्साए लोगों ने जाम लगा दिया। सूचना पर पहुंचे तहसीलदार और क्षेत्राधिकारी ने ग्रामीणों को मुआवजे का आश्वासन देकर समझा-बुझाकर जाम खुलवाया। घटना के बाद से परिवार में कोहराम मचा है।

टाइम्स नाउ नवभारत

Updated Nov 12, 2022 | 11:27 PM IST

Ballia

गुस्साए ग्रामीणों को समझाते हुए क्षेत्राक्षिकारी

तस्वीर साभार : Twitter
मुख्य बातें
  • बलिया में दर्दनाक हादसा, जीजा-साले की मौत
  • करंट की चपेट में आने से जीजा-साले की मौत
  • गुस्साए लोगों ने जाम लगाया, अधिकारियों ने समझाया
Ballia Accident: उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में दर्दनाक हादसा पेश आया है। बलिया जिले में जीजा-साले की मौत से कोहराम मच गया। हादसे के बाद गुस्साए लोगों ने जमकर हंगामा किया और जाम लगा दिया। हालांकि पुलिस ने ग्रामीणों को समझाया और जाम खुलवाया। दरअसल, बलिया जनपद के खानपुर में शनिवार की सुबह शौच करने जा रहे जीजा-साले की खेत में टूटे पड़े हाईटेंशन लाइन के तार की चपेट में आने से दर्दनाक मौत हो गई। सूचना मिलते ही सहतवार पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने जीजा-साले के शवों को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया गया।
वहीं, आए दिन हो रही घटनाओं के बाद भी जर्जर तारों को नहीं बदला जा रहा है, इससे गुस्साए ग्रामीणों ने बिजली विभाग के खिलाफ नारेबाजी करते हुए हल्दी-सहतवार रोड पर खानपुर के पास जाम लगा दिया। हालांकि पुलिस ने लोगों को समझाया और जाम खुलवाया।

करंट लगने से हुई दोनों की मौत

जानकारी के अनुसार, खानपुर का रहने वाला संदीप तिवारी (18) पुत्र राजेश तिवारी अपने जीजा गाजीपुर के नशीदीपुर निवासी अजय पांडेय (24) पुत्र रमेश पांडेय संग शनिवार की सुबह शौच के लिए जा रहा था। जैसे ही दोनों घर से करीब 100 मीटर दूर पहुंचे कि खेत में टूटे पड़े तार की चपेट में आए। दोनों की मौके पर ही करंट लगने से मौत हो गई। यहां से निकल रहे शख्स ने परिजनों को घटना की जानकारी दी। आनन-फानन परिजन मौके पर पहुंचे तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी।

अधिकारियों ने ग्रामीणों को समझाकर खुलवाया जाम

घटना के बाद में गुस्साए ग्रामीणों ने खानपुर में हल्दी सहतवार रोड पर जाम लगा दिया। ग्रामीणों का आरोप है कि, तार जर्जर हो रहे हैं, तार अक्सर टूटकर गिरते रहते हैं। एक साल में पांच से छह लोग बिजली की चपेट में आने से जान गंवा चुके हैं। बिजली विभाग को इसको लेकर कई बार अवगत कराया, लेकिन कभी सुनवाई नहीं हुई। सूचना मिलने पर तहसीरदार और सीओ मौके पर पहुंचे। गुस्साए लोगों को दोनों अधिकारियों ने किसी तरह समझाया। क्षेत्राधिकारी राजेश कुमार तिवारी के अनुसार, बिजली विभाग के उच्च अधिकारी से लिखित आश्वासन मिला है। 10 से 15 दिन में परिवार के लोगों को मुआवजा मिल जाएगा। बताया जा रहा है कि, दो दिन पहले अजय पांडेय के पुत्र की छठी थी। छठी में वह नशीदीपुर से अपने ससुराल खानपुर आया था। शनिवार की सुबह हादसे में साले के साथ उसकी मौत हो गई।
लेटेस्ट न्यूज

आज का इतिहास, 28 नवंबर: ब्रिटेन की 'लौह महिला' मार्ग्रेट थैचर ने दिया था इस्तीफा

   28

Punjab में हादसा: बेर खाने बच्चे गए थे पटरी पर, ट्रेन की चपेट में आए और तीन की चली गई जान, चौथा जख्मी

Punjab

FB पर Live आ बोला युवक- फर्जी दहेज केस में फंसा रहे ससुराली, दे रहा हूं जान...और फिर पी गया मच्छर मारने वाली दवा

FB  Live   -

Ajab Gajab News: देश का ऐसा रहस्यमयी गांव, यहां आकर सुसाइड कर लेते हैं पक्षी! जानिए वजह

Ajab Gajab News

China में COVID केस रिकॉर्ड स्तर पर, कड़े प्रतिबंधों पर विरोध, नारे लगा चीखे चीनी- गद्दी छोड़ो, इस्तीफा दो शी

China  COVID            -

FIFA World Cup 2022: मोरक्‍को ने किया बड़ा उलटफेर, बेल्जियम को 2-0 से हराया

FIFA World Cup 2022        2-0

नोरा फतेही को प्यार में मिला धोखा, श्रीति का परफॉर्मेंस देखकर फूट- फूटकर रोने लगीं एक्ट्रेस

           -

अनाथ, 'अकेले' और आविदवासी, पर बनना चाहते हैं बड़े अधिकारी...PM के दिल को छुई इन भाइयों की कहानी, मिलने के लिए रैली में हो गए लेट

         PM
आर्टिकल की समाप्ति

© 2022 Bennett, Coleman & Company Limited