Sleeper class : ट्रेनों में स्लीपर क्लास डिब्बे रहेंगे या नहीं, रेलवे बोर्ड के चेयरमैन ने किया स्पष्ट

बिजनेस
आईएएनएस
Updated Oct 16, 2020 | 11:09 IST

भारतीय रेल ने स्पष्ट किया कि मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में स्लीपर क्लास बोगी रहेगी या नहीं रहेगी।

sleeper class coaches will remain in trains Whether or not, Railway Board Chairman VK Yadav clarified
ट्रेनों में स्लीपर क्लास कोच को लेकर रेलवे का जवाब 

नई दिल्ली : भारतीय रेल ने गुरुवार को उन रिपोर्ट्स का खंडन कर दिया, जिसमें कहा गया था कि रेलवे अब मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों से स्लीपर क्लास बोगी हटाने वाली है। रेलवे ने कहा कि थ्री-टीयर कोच को लाने का मकसद यात्रियों की यात्रा को ज्यादा सस्ता और आरामदायक बनाना है। एक वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए, रेलवे बोर्ड के चेयरमैन और सीईओ वी.के.यादव ने कहा कि हम निश्चित ही स्लीपर क्लास कोचों को रखेंगे। इसमें कोई भी अस्पष्टता नहीं है।

उन्होंने कहा कि रेलवे की योजना अपने नेटवर्क के ट्रेनों की स्पीड को बढ़ाना है। नई दिल्ली-मुंबई और नई दिल्ली-कोलकाता रूट पर ट्रेन की गति 130 किमी की जाएगी, जबकि 160 किमी की गति हासिल करने के लिए ट्रैक को अपग्रेड करने का काम शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि इस बढ़ी हुई गति की वजह से स्लीपर क्लास के कोचों में यात्रियों को समस्या और परेशानी होगी।

यादव ने कहा कि इसलिए हमने नए एसी-3 टीयर कोच बनाने का फैसला लिया है, जो कि अगले वर्ष तक सामने आ जाएगा। हमारा उद्देश्य एसी ट्रेवल को ज्यादा सस्ता बनाने का है और इसका फेयर एस-3 और स्लीपर क्लास के बीच होगा।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर