Financial Planning Tips : पैसों की तुरंत जरूरत है FD ना तोड़ें, होगा नुकसान, बदले में लें लोन, जानें तरीका

Financial Planning Tips : आर्थिक तंगी होने से लोग अपना फिक्स्ड डिपोजिट तोड़ देते हैं लेकिन इससे नुकसान है लोगों को उसके बदले लोन लेना चाहिए। जानिए कैसे ले सकते हैं।

Financial Planning Tips : Money is needed immediately, do not break FD, to be loss, take loan in return, how to get loan against FD
FD के बदले भी लोन मिलता है  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • कई लोगों को नहीं पता FD के बदले लोन भी मिलता है
  • FD को समय से पहले तोड़ने पर इंटरेस्ट रेट पेनाल्टी लगती है
  • FD के बदले लोन लेकर इस पेनाल्टी से बचा जा सकता है

Financial Planning Tips : सुनिश्चित रिटर्न, पैसे की सुरक्षा और आसानी से तोड़ने की सुविधा के कारण, फिक्स्ड डिपोजिट (FD) एक लोकप्रिय सेविंग्स इंस्ट्रूमेंट है जो फाइनेंसियल इमरजेंसी में काफी मददगार साबित होता है। इससे रिटायर्ड लोगों को सुनिश्चित इनकम मिलती है और सेविंग्स सम्बन्धी लक्ष्यों को पूरा करने में भी लोगों को काफी मदद मिलती है। लेकिन, FD में अनुशासित तरीके से और लगातार इन्वेस्ट करना जरूरी होता है। कई लोगों को नहीं पता कि FD के बदले लोन भी मिलता है। पैसे की कमी होने पर, FD को समय से पहले तोड़ने पर इंटरेस्ट रेट पेनाल्टी लगती है। लेकिन पैसे की जरूरत को पूरा करने के लिए FD के बदले लोन लेकर इस पेनाल्टी से बचा जा सकता है। FD के बदले मिलने वाले लोन यानी लोन अगेंस्ट FD के बारे में जानने के लिए आगे पढ़ें।

कैसे मिलता है FD अगेंस्ट लोन

यह एक सुरक्षित लोन है जहां आपको जमानत के तौर पर अपना FD गिरवी रखनी पड़ती है जहां FD अकाउंट में जमा पैसे के बदले ओवरड्राफ्ट के रूप में यह लोन दिया जाता है। इसमें ज्यादा पेपरवर्क नहीं करना पड़ता। इसके लिए अपने बैंक को सिर्फ अपने FD डॉक्यूमेंट्स देने पड़ते हैं और एक लोन एप्लीकेशन फॉर्म भरना होता है।

कितना मिल सकता है लोन 

बैंक आम तौर पर आपके फिक्स्ड डिपोजिट के वैल्यू का 80-95% लोन देते हैं। अलग-अलग बैंक में मिनिमम और मैक्सिमम लोन अमाउंट सम्बन्धी शर्तें अलग-अलग होती हैं। जैसे, एक प्रमुख सरकारी बैंक 25,000 रुपए से 5 करोड़ रुपए तक लोन दे सकता है।

इंटरेस्ट रेट

लोन अगेंस्ट FD का इंटरेस्ट रेट आम तौर पर पर्सनल या कार लोन से कम होता है, जो FD रेट से 100-200 बेसिस पॉइंट्स ज्यादा होता है। जैसे, यदि आपका FD रेट 6% है तो लोन रेट 7% हो सकता है। कई बैंक, इंटरेस्ट रेट पर डिस्काउंट भी देते हैं जब आप उनके ऐप या किसी अन्य विशिष्ट ऑनलाइन सर्विस के माध्यम से अप्लाई करते हैं।

रीपेमेंट पीरियड

यह लोन, आपकी शॉर्ट-टर्म जरूरतों को पूरा करने के लिए पैसों का इंतजाम करने का एक बढ़िया तरीका है। इसका रीपेमेंट पीरियड आम तौर पर 5 साल तक या आपके FD टेन्योर के अनुसार होता है। आपका लोन टेन्योर आपके FD टेन्योर से कभी अधिक नहीं हो सकता है। कुछ बैंक बिना किसी चार्ज के लोन का प्रीपेमेंट करने की इजाजत भी देते हैं। इसलिए यह लोन लेने से पहले इसके नियमों एवं शर्तों के बारे में अच्छी तरह जान लेना चाहिए।

FD के बदले लोन लेने से पहले क्या करें?

मेडिकल ट्रीटमेंट, अर्जेंट ट्रेवल, बच्चों की पढ़ाई, घर की मरम्मत, जैसी फाइनेंसियल इमरजेंसी में यह लोन बड़े काम आता है। लेकिन यह लोन लेने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। यह लोन लेने पर आपके लेंडर को आपके FD पर लियन या ग्रहणाधिकार मिल जाता है। लोन न चुका पाने पर आपके लेंडर को आपके FD से बाकी अमाउंट वसूल करने का अधिकार होता है। लोन के लिए FD गिरवी रखने पर, FD पर इंटरेस्ट तो मिलता रहेगा लेकिन लोन को चुकाए बिना FD को तोड़ा नहीं जा सकेगा।

लोन लेने से पहले आपको अपने प्रत्येक FD का टेन्योर देख लेना चाहिए। चूंकि यह लोन, 5 साल साल तक के टेन्योर वाले FD के बदले दिया जाता है, इसलिए आपको मैच्योरिटी के करीब पहुंच चुके FD के बदले लोन नहीं लेना चाहिए वर्ना इक्वेटेड मंथली इंस्टालमेंट्स (EMI) देना पड़ता है, इसलिए लम्बे टेन्योर वाले FD के बदले लोन लेना चाहिए। इसके अलावा इस लोन के हर पहलू को समझना और अपनी उधार क्षमता का पता लगाने के लिए अपनी EMI का हिसाब निकालना भी जरूरी है। यदि आपका फिक्स्ड डिपोजिट अकाउंट एक जॉइंट अकाउंट है तो सभी होल्डर्स को लोन डॉक्यूमेंट्स पर साइन करना होगा और रीपेमेंट की जिम्मेदारी सबकी होगी।

इंटरेस्ट रेट घट रहे हैं। पैसों की जरूरत पड़ने पर FD के बदले लोन लिया जा सकता है। लेकिन अन्य लोन की तरह इसे भी समय पर चुकाना जरूरी है। इसलिए इसे चुकाने की प्लानिंग पहले से करके रखना भी जरूरी है। 

इस लेख के लेखक, BankBazaar.com के CEO आदिल शेट्टी हैं)
(डिस्क्लेमर: यह जानकारी एक्सपर्ट की रिपोर्ट के आधार पर दी जा रही है। बाजार जोखिमों के अधीन होते हैं, इसलिए निवेश के पहले अपने स्तर पर सलाह लें।) ( ये लेख सिर्फ जानकारी के उद्देश्य से लिखा गया है। इसको निवेश से जुड़ी, वित्तीय या दूसरी सलाह न माना जाए)

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर