बड़ा फैसला: विदेश से आने वाले यात्रियों के लिए 7 दिनों तक होम क्वारंटीन होगा जरूरी

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Jan 07, 2022 | 17:16 IST

भारत सरकार ने कहा है कि सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को भारत आने पर 7 दिनों के लिए क्वारंटीन करना होगा।

Covid Guidelines All international travellers coming to India must quarantine for 7 days
बड़ा फैसला: विदेश से आने वाले यात्रियों के लिए 7 दिनों तक होम क्वारंटीन होगा जरूरी  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को भारत आने पर कोविड की रिपोर्ट दिखानी होगी।
  • यात्रियों को 7 दिनों के लिए घर पर सेल्फ क्वारंटीन में रहना होगा।
  • नए नियम 11 जनवरी 2022 से लागू होंगे।

नई दिल्ली। देश में कोविड-19 के मामलों (Covid Cases In India) में भारी वृद्धि के बीच भारत सरकार ने अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए नई गाइडलाइन जारी कर दी हैं। अब भारत आने वाले इंटरनेशनल यात्रियों को 7 दिन के लिए होम क्वारंटीन में रहना होगा। भारत आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को आगमन पर हवाई अड्डे पर एक कोविड -19 परीक्षण (Covid Test) करने की आवश्यकता होगी। अगर टेस्ट नेगेटिव आता है, तो उन्हें 7 दिनों के लिए होम क्वारंटीन में रहना होगा। कोविड पॉजिटिव यात्रियों को आइसोलेशन सुविधा में लिया जाएगा।

11 जनवरी से अगले आदेश तक लागू होंगे दिशानिर्देश
सरकारी सर्कुलर में कहा गया है कि नई गाइडलाइंस 11 जनवरी 2022 से अगले आदेश तक मान्य होंगी। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW) की एक अधिसूचना में कहा गया है कि भारत में प्रवेश करने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को देश में आने पर अनिवार्य रूप से 7 दिन के लिए क्वारंटीन में रहना होगा।

देशभर में फिर एक दिन में पार हुआ कोविड का 1 लाख का आंकड़ा, नए मामलों ने बढ़ाई चिंता

अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की होगी थर्मल स्क्रीनिंग
दिशानिर्देशों के मुताबिक, भारतीय हवाई अड्डों पर आगमन पर सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। स्क्रीनिंग के दौरान लक्षण पाए जाने वाले यात्रियों को तुरंत आइसोलेट किया जाएगा और स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के अनुसार चिकित्सा सुविधा में ले जाया जाएगा।

Delhi Weekend Curfew Guidelines & Rules:दिल्ली वीकेंड कर्फ्यू, 11प्वाइंट में जानें-क्या रहेगा खुला और क्या होगा बंद

8वें दिन फिर से करना होगा RT-PCR टेस्ट
जिन देशों में कोविड के मामले ज्यादा है, वहां के यात्रियों का आगमन पर टेस्ट किया जाएगा, जिसकी लागत यात्री द्वारा ही वहन की जाएगी। इसके बाद यात्री को जाने या कनेक्टिंग फ्लाइट लेने से पहले टेस्ट रिपोर्ट का इंतजार करना होगा। अगर टेस्ट नेगेटिव आता है, तो उन्हें 7 दिनों के लिए होम आइसोलेशन से गुजरना होगा, जिसके बाद उन्हें 8वें दिन फिर से आरटी-पीसीआर लेना होगा।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर