President Palace पर तालिबान का कब्‍जा, एयरपोर्ट पर अफरातफरी, अफगानिस्‍तान में 24 घंटों में कैसे बदल गया सब

अफगानिस्‍तान में 24 घंटे के भीतर सबकुछ बदल गया। राष्‍ट्रपति भवन पर तालिबान का कब्‍जा हो गया तो राष्‍ट्रपति अशरफ गनी देश छोड़कर भाग गए। यहां जानिये बीते 24 घंटों में यहां क्‍या कुछ हुआ।

President Palace पर तालिबान का कब्‍जा, Kabul एयरपोर्ट पर पर अफरातफरी, अफगानिस्‍तान में 24 में कैसे बदल गया सब
President Palace पर तालिबान का कब्‍जा, एयरपोर्ट पर पर अफरातफरी, अफगानिस्‍तान में 24 घंटों में कैसे बदल गया सब  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • अफगानिस्‍तान पर अब तालिबान का कब्‍जा है
  • राष्‍ट्रपति अशरफ गनी देश छोड़कर जा चुके हैं
  • अफगान प्रेजीडेंट पैलेस में अब तालिबान का राज है

काबुल : तालिबान, अफगानिस्‍तान में तेजी से पांव पसार रहा था। लेकिन किसी ने शायद ही सोचा था कि तालिबान इतनी जल्‍दी काबुल और फिर राष्‍ट्रपति भवन पर कब्‍जा कर लेगा। बीते 24 घंटों में यहां हालात तेजी से बदले। हालात ऐसे बन गए राष्‍ट्रपति अशरफ गनी को देश छोड़कर भागना पड़ा। अफगानिस्‍तान के तालिबान के हाथों में पड़ने के बीच लोगों में डर देखा जा रहा है। बड़ी संख्‍या में वे देश छोड़कर जाने की जुगत में लगे हैं। काबुल एयरपोर्ट पर अफरातफरी का माहौल देखा गया है। यहां जानिये बीते 24 घंटों में अफगानिस्‍तान में क्या कुछ हुआ : 

  1. अफगानिस्‍तान के कई प्रांतों और शहरों को कब्‍जाने के बाद तालिबान ने रविवार को काबुल पर भी कब्‍जा कर लिया। अफगान लड़ाके राष्‍ट्रपति भवन पहुंचे, जहां उन्‍होंने इसे अपने नियंत्रण में ले लिया।
  2. इसके बाद तालिबान की ओर से बयान जारी कर कहा गया कि वे जबरन सत्‍ता हस्‍तांतरण नहीं चाहते और शांतिपूर्ण तरीके से इसके पक्ष में हैं। अफगानिस्‍तान के गृह मंत्री अब्दुल सत्तार मीरजकवाल ने भी एक बयान में इसकी पुष्टि की और कहा कि काबुल पर हमला नहीं होगा।
  3. तालिबान ने काबुल के बाहरी इलाके में मौजूद बगराम एयरफील्‍ड और जेल को भी अपने नियंत्रण में लेने की बात कही। यह वही सैन्‍य अड्डा है, जहां से अमेरिका ने अफगानिस्‍तान में करीब 20 वर्षों तक युद्ध को संचालित किया।
  4. तालिबान ने बामियान प्रांत पर भी कब्जा कर लिया है, जहां तकरीबन 20 साल पहले 2001 में उसने बुद्ध की वैश्विक स्‍तर पर चर्चित और धरोहरों में शुमार विशाल मूर्ति को डायनामाइट से उड़ा दिया था। यहां तालिबान को किसी खास प्रतिरोध का सामना नहीं करना पड़ा।
  5. अफगानिस्‍तान पर कब्‍जे के बाद यहां लोगों में सुरक्षा को लेकर खौफ पैदा हो गया है। महिलाएं खास तौर पर चिंतित हैं। महिलाओं को डर है कि तालिबान के राज में उन्‍हें उनके अध‍िकारों से वंचित किया जा सकता है।
  6. अफगानिस्‍तान की महिला सांसद फरजामना कोचाई ने मीडिया से कहा कि लोग काबुल छोड़कर भागने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन उनके लिए कोई जगह ही नहीं बची है। इस बीच काबुल एयरपोर्ट भी अफतरातफरी देखी गई, जिसका वीडियो सामने आया है।
  7. अफगानिस्‍तान में तेजी से बदलते घटनाक्रम के बीच अमेरिका, ब्रिटेन सहित तमाम देश अपने नागरिकों को सुरक्षित बाहर निकालने में जुट गए हैं।
  8. अफगानिस्‍तान के हालात ने अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर भी सुर्खियां बटोरी है। अमेरिका के पूर्व राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने अफगानिस्‍तान में अराजकता के लिए मौजूदा राष्‍ट्रपति जो बाइडन को जिम्‍मेदार ठहराते हुए उनसे इस्‍तीफे की मांग की है।

अफगानिस्‍तान में पल-पल बदल रहे हालात के बीच भारत सहित दुनिया के कई देशों की नजरें अब तालिबान के अगले कदम पर टिकी हैं। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर