Salman Rushdie: कौन हैं लेखक सलमान रुश्दी, अब तक कर चुके हैं 4 शादियां

दुनिया
दीपक पोखरिया
Updated Aug 12, 2022 | 23:21 IST

Salman Rushdie: रुश्दी की पहली पुस्तक 'ग्रिमस' थी जो 1975 में प्रकाशित हुई थी। यह एक अमर अमेरिकी मूल-निवासी ईगल की कहानी थी, जो जीवन के सही अर्थों का पता लगाने के लिए एक अभियान पर जाता है।

Who is the author Salman Rushdie has done 4 marriages till now
लेखक सलमान रुश्दी। (File Photo)  |  तस्वीर साभार: ANI

Salman Rushdie: अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में शुक्रवार को एक कार्यक्रम के दौरान लेखक सलमान रुश्दी पर एक शख्स ने हमला कर दिया। ये हमला उस समय हुआ जब सलमान रुश्दी पश्चिमी न्यूयॉर्क के शुटाउक्वा संस्थान में एक कार्यक्रम के दौरान अपना व्याख्यान शुरू करने वाले ही थे। हमलावार शख्स ने मंच पर चढ़कर रुश्दी को घूंसे मारे और चाकू से हमला किया। इस हमले में वह घायल हो गए। 

19 जून 1947 को बॉम्बे में हुआ था सलमान रुश्दी का जन्म

सलमान रुश्दी का पूरा नाम सर अहमद सलमान रुश्दी हैं और उनका जन्म 19 जून 1947 को बॉम्बे में हुआ था। वह एक ब्रिटिश भारतीय उपन्यासकार हैं।  वह एक शिक्षित परिवार से थे। उनके पिता अनीस अहमद रुश्दी थे, जो कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के वकील थे और उनका अपना व्यवसाय था। उनकी मां नेगिन भट्ट एक शिक्षिका थीं। वह मुंबई में कैथेड्रल और जॉन कॉनन स्कूल और इंग्लैंड में रग्बी स्कूल गए। उनका कॉलेज किंग्स कॉलेज था और ग्रेजुएशन की पढ़ाई के लिए वे कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय गए।

Salman Rushdie News: लेखक सलमान रुश्दी पर अमेरिका में जानलेवा हमला, चाकुओं से गोदकर किया घायल

वह पांच साल की उम्र से लेखक बनने की ख्वाहिश रखते थे। उन्होंने कुछ समय के लिए अभिनय से शुरुआत की जिसके बाद उन्होंने लगभग दस वर्षों तक कुछ स्वतंत्र विज्ञापन किए। रुश्दी की पहली पुस्तक 'ग्रिमस' थी जो 1975 में प्रकाशित हुई थी। यह एक अमर अमेरिकी मूल-निवासी ईगल की कहानी थी, जो जीवन के सही अर्थों का पता लगाने के लिए एक अभियान पर जाता है। इस बीच रुश्दी अभी भी एक स्वतंत्र विज्ञापन लेखक के रूप में काम कर रहे थे, उन्हें अपनी दूसरी पुस्तक 'मिडनाइट चिल्ड्रन' को समाप्त करने में लगभग पांच साल लगे, जो 1981 में रिलीज हुई थी।

उनकी किताब 'द सैटेनिक वर्सेज' (1988) ने रुश्दी के जीवन को एक बुरे सपने में बदल दिया। दरअसल किताब की कहानी कुछ कुरान की आयतों को संदर्भित करती हैस जिन्हें हटा दिया गया था क्योंकि वे पैगंबर के जीवन में एक ऐसे समय के बारे में थे जो मुसलमानों के लिए अपमानजनक था। इससे मुस्लिम जगत में आक्रोश फैल गया और अयातुल्ला रहोला खुमैनी ने रुश्दी के लिए 'फतवा' जारी कर 'मौत की सजा' का ऐलान कर दिया।

सलमान रुश्दी के पैतृक आवास की कीमत हाईकोर्ट ने की तय, 130 करोड़ में जैन परिवार को देनी होगी संपत्ति

इसके बाद रुश्दी छिप गए। पूरी दुनिया में उस किताब की निंदा की गई जिसने मुसलमानों का इतना अपमान किया था। जो लोग सार्वजनिक रूप से रुश्दी का पक्ष लेने की बात करते थे, उनकी हत्या कर दी गई और रुश्दी बाद में कई चुटकुलों का केंद्र भी बने। 1990 में रुश्दी का एक और उपन्यास 'हारून एंड द सी ऑफ स्टोरीज' जारी किया गया। उनकी पुस्तक 'द मूर्स लास्ट सीघ' को भी हिंदुओं से आलोचना मिली। 'द ग्राउंड बिनिथ हर फीट' 1999 में प्रकाशित हुआ था। यह एक गायक की कहानी कहता है; जो भूकंप के दौरान खो जाता है।

अब तक 4 बार शादी कर चुके हैं सलमान रुश्दी

उनकी कहानियां भारतीय उपमहाद्वीप पर केंद्रति हैं और उनमें ज्यादातर पूर्व और पश्चिम की ओर पलायन और उनके बीच होने वाली घटनाओं जैसे विषय शामिल हैं। सलमान रुश्दी अब तक चार बार शादी कर चुके हैं। उनकी किताब 'द मिडनाइट्स चिल्ड्रन' को 'बुकर प्राइज' मिला। अंग्रेजी साहित्य में उनके अपार योगदान के कारण उन्हें 2007 में क्वीन एलिजाबेथ द्वारा नाइट बैचलर नियुक्त किया गया था। वह फ्रांस के 'ऑर्ड्रे डेस आर्ट एट डेस लेट्रेस' में 'कमांडर' हैं। रुश्दी 'द टाइम्स' की '1945 के बाद से 50 महानतम ब्रिटिश लेखकों' की सूची में 13वें लेखक पर भी हैं। रुश्दी के नवीनतम उपन्यास को 'लुका एंड द फायर ऑफ लाइफ' कहा जाता है, जो 2010 में प्रकाशित हुआ था। उनके द्वारा लिखी गई अन्य पुस्तकों में 'फ्यूरी' (2001), 'शालीमार एंड द क्लाउन' (2005) और 'द एनचैंट्रेस ऑफ फ्लोरेंस' (2008) शामिल हैं।
 

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर