Corona Virus: चीन में 'कोरोना का कहर, इन विमान कंपनियों ने बंद की हवाई सेवाएं, WHO ने बुलाई आपात बैठक

कोरोना वायरस का पहला मामला पिछले साल दिसंबर में वुहान शहर में सामने आया था। अब यह पूरी दुनिया में फैल चुका है। चीन में इस विषाणु से 132 लोगों की मौत हो चुकी है

WHO chief calls new emergency talks on China over coronavirus Lufthansa scrapping all flights
Corona Virus: चीन में 'कोरोना का कहर, इन विमान कंपनियों ने बंद की हवाई सेवाएं, WHO ने बुलाई आपात बैठक  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • चीन घातक कोरोना वायरस को फैलने से निपटने के लिए कर रहा है संघर्ष
  • चीन में इस विषाणु से 132 लोगों की मौत हो चुकी है और कम से कम 6,061 लोग हो चुके हैं संक्रमित
  • इंडिगो सहित दुनिया की तमाम विमानन कंपनियों ने चीन जाने वाली उड़ानों को किया स्थगित

नई दिल्ली/ बीजिंग: चीन में कोरोना वायरस का कहर दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए विश्व की कई विमान कंपनियों ने चीन जाने वाली अपनी उड़ानों को स्थगित कर दिया है। जिन कंपनियों ने अपनी उड़ानों को स्थगित किया है उनमें एयर इंडिया, ब्रिटिश एयरवेज, लायन एयर और इंडिगो, लुफथांसा सहित दुनिया की अन्य विमानन कंपनियां शामिल हैं।  

कई देशों ने चीन के साथ अपने ट्रांसपोर्ट लिंक तक स्थगित कर लिए हैं।चीन की राजधानी बीजिंग सहित तमाम शहर घातक कोरोना वायरस को फैलने से निपटने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। इस बीच इस जानलेवा वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO)ने गुरुवार को आपातकालीन बैठक बुलाई है। चीन में इस वायरस की वजह से अभी तक 132 लोगों की जान जा चुकी है और करीब 6000 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं।

कोरोना वायरस का पहला मामला पिछले साल दिसंबर में वुहान शहर में सामने आया था। अब यह पूरी दुनिया में फैल चुका है। चीन में इस विषाणु से 132 लोगों की मौत हो चुकी है अमेरिका और जापान कोरोना वायरस से फैली महामारी के केंद्र वुहान से पहले ही अपने कुछ नागरिकों को निकाल चुके हैं। एयर इंडिया ने कहा है कि 31 जनवरी से 14 फरवरी के बीच दिल्ली-शंघाई की उसकी उड़ानें स्थगित रहेंगी।

कोरोना वायरस से संक्रमण के खतरे के मद्देनजर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों में किये गये ऐहतियाती उपायों की समीक्षा की। प्रत्येक राज्य के हवाईअड्डों पर चिकित्सा संबंधी सभी जरूरी ऐहतियाती उपायों के अलावा 21 हवाईअड्डों पर यात्रियों की थर्मल जांच की समीक्षा की गई है।  चीन से भारत आने वाले 33 हजार से अधिक यात्रियों की विभिन्न हवाईअड्डों पर जांच की जा चुकी है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर