US presidential debate: ट्रंप का भारत-रूस पर निशाना, 'दोनों देशों की आबोहवा खराब'

अमेरिकी राष्ट्रपति दो अक्टूबर को कोरोना वायरस के संक्रमण से सक्रमित हो गए इसके बाद आयोग ने दूसरी डिबेट वर्चुअल कराने का प्रस्ताव दिया था लेकिन ट्रंप इसके लिए तैयार नहीं हुए।

US presidential debate LIVE: Donald Trump, Joe Biden to debate one more time
अंतिम प्रेसिडेंशियल बहस में ट्रंप और बिडेन आमने-सामने। 

वॉशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और जो बिडेन के बीच शुक्रवार को अंतिम प्रेसिडेंशियल डिबेट हुई। दोनों उम्मीदवारों के बीच कोरोना संकट और टैक्स सुधारों को लेकर तीखी बयानबाजी देखने को मिली। तीन नवंबर को मतदान से पहले दोनों नेताओं के बीच अंतिम प्रेसिडेंशियल डिबेट में ट्रंप और बिडेन दोनों एक-दूसरे पर हमलावर हुए। यह डिबेट नैशविले में हुई। दूसरी प्रेसिडेंशियल डिबेट 15 अक्टूबर को मियामी में होने वाली थी लेकिन इसे स्थगित कर दिया गया। पहली प्रेसडेंशियल डिबेट के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति कोरोना वायरस से सक्रमित हो गए इसके बाद आयोग ने दूसरी डिबेट वर्चुअल कराने का प्रस्ताव दिया था लेकिन ट्रंप इसके लिए तैयार नहीं हुए। ट्रंप और डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन के बीच पहला प्रेसिडेंशियल डिबेट 29 सितंबर को ओहियो में हुआ था। 

अंतिम प्रेसेडेंशियल डिबेट की मुख्य बातें

वायु प्रदूषण के लिए ट्रंप का रूस-भारत पर निशाना
वायु प्रदूषण पर भारत और रूस पर निशाना साधते हुए ट्रंप ने कहा कि इन दोनों देशों की आबोहवा खराब है। अमेरिकी में सबसे अच्छी हवा, सबसे साफ पानी और कार्बन उत्सर्जन कम करने के सबसे बेहतर उपाय हैं। अमेरिका में यह चीजें हम काफी पहले से देखते आए हैं। ट्रंप ने नवीकरणीय ऊर्जा पर भी अपनी बात रखी। 

बिडेन बोले- तो यह अमेरिकियों के लिए 'डार्क विंटर' होगा
बिडेन ने कहा कि कोई भी देश जो अमेरिकी चुनाव में दखल देगा, अगर वह राष्ट्रपति चुने गए तो उस देश को इसकी 'कीमत' चुकानी होगी। उन्होंने कहा, 'वे अमेरिकी संप्रभुता में दखल दे रहे हैं।' बिडेन ने तीखा हमला करते हुए कहा कि  ह्वाइट हाउस में रहने के लिए ट्रप 'अनफिट' हैं। उन्होंने कहा कि ट्रंप यदि आगे ह्वाइट हाउस में रहे तो अमेरिका के लिए यह 'डार्क विंटर' होगा। 

ट्रंप बोले- हम देश को बंद नहीं कर सकते   
ट्रंप ने कहा कि देश को कोविड-19 के संकट से उबारने के लिए वैक्सीन की घोषणा जल्द होगी। हम देश को बंद नहीं कर सकते और जो बिडेन की तरह बेसमेंट में नहीं रह सकते। न्यूयॉर्क एक 'घोस्ट टाउन' है और लोग इस वायरस के साथ जीना सीख रहे हैं।

कोरोना पर ट्रंप ने लोगों को गुमराह किया-बिडेन 
बिडेन ने आरोप लगाया कि ट्रंप के पास कोविड-19 से लड़ने की कोई योजना नहीं है। कोरोना की वजह से हुई मौतों के लिए जिम्मेदार व्यक्ति को राष्ट्रपति नहीं रहना चाहिए। हमारी सरकार बनने पर हम यह सुनिश्चित करेंगे कि सभी लोग मास्क पहनें। हमारी सरकार टेस्टिंग बढ़ाएगी। बिडेन ने कोरोना संकट पर ट्रंप को घेरते हुए कहा कि राष्ट्रपति ने लोगों को कभी नहीं बताया कि यह वायरस खतरनाक है। वह लोगों से कहते रहे कि घबराने की जरूरत नहीं है।

अंतिम प्रेसिडेंशियल डिबेट की शुरुआत हुई
अंतिम प्रेसिडेंशियल डिबेट शुरू हो गई है। बहस की शुरुआत में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन ने यह कहते हुए ट्रंप पर निशाना साधा कि 'एक बडे़ जर्नल ने अमेरिकी राष्ट्रपति के बर्ताव को पुरी तरह से भयावह माना है।' इस पर पलटवार करते हुए ट्रंप ने राष्ट्रपति एवं रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार ट्रंप ने कहा कि 'हमने अब तक जो कुछ किया है उसके लिए कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों ने मुझे धन्यवाद दिया है।' 

कमला हैरिस की प्रेस सचिव का ट्रंप पर हमला
प्रेसिडेंशियल डिबेट शुरू होने से पहले रिपब्लिकन पार्टी की तरफ से उप राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस की प्रेस सचिव सबरीना सिंह ने कहा कि इस डिबेट में दूसरी बार जो बिडेन के सपनों, अवसरों एवं आशावादिता के विजन को जानने का मौका मिलेगा। जबकि डोनाल्ड ट्रंप ने देश में विभाजन एवं नफरत की भावनाएं फैलाई हैं।
 Sabrina Singh

उन्होंने कहा, 'डेमोक्रेटिक पार्टी के पास अमेरिका में निवेश बढ़ाने एवं नौकरियां वापस लाने की योजना है। हम अपनी अर्थव्यवस्था बढ़ा सकते हैं। हमारे पास उच्च शिक्षा, पढ़ाई के लिए लोन में कटौती और जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों से निपटने की एक योजना है।'

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर