अब पकड़ में आई बगदादी की बहन, अधिकारियों को आईएसआईएस से जुड़े होने का शक    

दुनिया
Updated Nov 05, 2019 | 10:00 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Baghdadi sister captured in Syria : बगदादी की बहन का पकड़ में आना एक बड़ी कामयाबी है। समझा जाता है कि वह भी आईएसआईएस से जुड़ी हुई थी और अब उससे इस संगठन के बारे में अहम जानकारी हासिल हो सकेगी।

Turkish authorities capture sister of Baghdadi in Syria
Baghdadi's sister detained in Syria  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • तुर्की के अधिकारियों ने अलेप्पो प्रांत में बगदादी की बहन को पकड़ा
  • एजाज शहर में अपने पति एवं रिश्तेदारों के साथ रह रही थी रसमिया
  • रसमिया के आईएसआईएस से जुड़े होने का शक, मिल सकती है अहम जानकारी

अंकारा (तुर्की) : तुर्की के अधिकारियों ने मार दिए गए आईएसआईएस के सरगना अबु बक्र अल-बगदादी की बड़ी बहन और उसके परिवार को उत्तरी सीरिया में हिरासत में लिया है। मीडिया रिपोर्टों में सोमवार को यह जानकारी दी गई। न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक अधिकारियों ने सोमवार की शाम उत्तरी सीरिया के अलेप्पो प्रांत के एजाज शहर में 65 साल की रसमिया को हिरासत में लिया। रसमिया यहां पर अपने पति एवं रिश्तेदारों के साथ रह रही थी। 

रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि बगदादी की बहन का पकड़ में आना एक बड़ी कामयाबी है। समझा जाता है कि वह भी आईएसआईएस से जुड़ी हुई थी और अब उससे इस संगठन के बारे में अहम जानकारी हासिल हो सकेगी। बता दें कि पिछले सप्ताह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बगदादी के मारे जाने की पुष्टि की और इसके कुछ दिनों बाद ह्वाइट हाउस ने बगदागी के ठिकाने पर अमेरिकी सैन्य बलों की कार्रवाई का वीडियो जारी किया।

अमेरिका पिछले पांच सालों से बगदादी और उसके आतंकी संगठन के खात्मे की कोशिश में था लेकिन बगदादी को मारने में उसे अब जाकर सफलता मिली। आईएसआईएस ने भी अपने सरगना के मारे जाने की पुष्टि कर दी है। यही नहीं, अमेरिका के हमले में बगदादी का उत्तराधिकारी भी मार दिया गया है। बगदादी ने खुद को 'खलीफा' घोषित किया था और वह अपना 'खलीफा राज' स्थापित करना चाहता था। 

बगदादी का मारा जाना आतंकवाद के खिलाफ एक बड़ी जीत माना जा रहा है क्योंकि आईएस की विचारधारा से प्रभावित होकर कई देशों के युवा मुस्लिम एवं महिलाएं इस आतंकी संगठन में शामिल हुए थे। इस आंतकवादी संगठन ने सीरिया और इराक में हजारों लोगों को मौत के घाट उतारा और लोगों को यातनाएं दीं। आईएस से प्रभावित युवकों ने फ्रांस सहित दुनिया के अन्य हिस्सों में आतंकी वारदातों को अंजाम दिया।

अगली खबर