Plane Hijack: ईरान का दावा, विमान अपहरण की कोशिश को किया नाकाम

आईआरजीसी ने अपने बयान में कहा कि बीती रात उसने विमान अपहरण की कोशिश को नाकाम कर दिया। फॉक्कर 100 प्लेन अहवाज से मशहद की उड़ान पर था।

Plane Hijack: आईआरजीसी का दावा, विमान अपहरण की कोशिश को किया नाकाम
अहवाज़ से मशहद की उड़ान पर था विमान 

मुख्य बातें

  • आईआरजीसी का दावा, हवा में विमान अपहरण की कोशिश को किया गया नाकाम
  • अहवाज से मशहद की उड़ान पर था विमान
  • अपहरणकर्ता गिरफ्तार, वो फारस की खाड़ी स्थित किसी देश में विमान को ले जाना चाहते थे।

तेहरान। आईरजीसी ने अपने बयान में कहा कि बीती रात उसने विमान अपहरण की कोशिश को नाकाम कर दिया। फॉक्कर 100 प्लेन आह्वाज से मशाद की उड़ान पर था। ईरान का कहना है कि उसने गुरुवार रात को अहवाज़ से मशहद के लिए एक यात्री विमान के मार्ग को ठिकाने लगाने की साजिश रची। Aviation Security Corps (IRGC के एक विभाग) के पीआर ने घोषणा की कि अपहरणकर्ता ने विमान को दक्षिणी फारस की खाड़ी के देशों में से एक के हवाई अड्डे पर उतारने की योजना बनाई थी।

विमान अपहरण की कोशिश नाकाम
आईआरजीसी के  जनसंपर्क में "इस्फ़हान हवाई अड्डे पर विमान की आपातकालीन लैंडिंग के साथ अपहर्ता को गिरफ्तार किया गया था और विमान के यात्रियों ने एक और उड़ान के साथ उनके गंतव्य के लिए रवाना किया गया। अब सवाल यह है कि विमान के अपहरण के पीछे कौन लोग हो सकते हैं और फारस की खाड़ी स्थिति किसी देश में लैंड कराने के पीछे मंतव्य क्या हो सकता है। 


अपहरण के पीछे कौन, होगी जांच
ईरानी अधिकारियों को फिलहाल पुख्ता तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता है कि इस तरह की नापाक कोशिश के पीछे कौन लोग हैं। लेकिन इस मसले की गहराई से जांच की जाएगी। बता दें कि इस समय न्यूक्लियर मुद्दे के ऊपर अमेरिका और ईरान के बीच तनातनी है। इसके अलावा ईरान बार बार इजरायल की नीति की आलोचना कर चुका है। ईरान का मानना है कि उसे यूरेनियम का उपयोग शांतिपूर्ण कार्यों में भी करने से रोका जा रहा है। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर