Afgan Media: तालिबान ने अफगान मीडिया पर लगाई और 'पाबंदियां', जारी किए 11 नए नियम

Restrictions on Afghan Media: अफगानिस्तान में मीडिया की स्वतंत्रता को दबाने के लिए तालिबान ने समाचार संगठनों के खिलाफ '11 नियम' पेश किए हैं।

Afgan Media
तालिबान ने अफगान मीडिया पर लगाई और 'पाबंदियां' (प्रतीकात्मक फोटो) 

मुख्य बातें

  • तालिबान ने मीडिया संगठनों के लिए '11 Rules' को लागू किया है
  • ऐसे विषयों के प्रकाशन पर रोक लगाने को कहा गया है,जो इस्लाम  के खिलाफ है
  • तकरीबन 150 से अधिक मीडिया आउटलेट्स ने अपना संचालन बंद कर दिया है

नई दिल्ली: अफगानिस्तान  में प्रेस की स्वतंत्रता  को सेंसर करने और दमन करने के लिए तालिबान ने मीडिया संगठनों के लिए '11 रूल्स' (11 Rules) को लागू किया है साथ ही राष्ट्रीय हस्तियों के प्रति अपमानजनक सामग्री के प्रकाशन पर भी प्रतिबंध लगाया है, अफगानिस्तान में मीडिया की स्वतंत्रता के दमन वाले इस कदम को तालिबान यहां लागू कर रहा है।

पत्रकारों और सरकारी मीडिया कार्यालय के समन्वय में समाचार रिपोर्ट तैयार करने का निर्देश भी दिया गया है साथ ही नए नियमों के तहत लगाए गए प्रतिबंधों  में ऐसे विषयों के प्रकाशन पर रोक लगाने को कहा गया है, जो इस्लाम के खिलाफ है।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक अफगान सरकार के पतन के बाद से यहां पर तकरीबन 150 से अधिक मीडिया आउटलेट्स ने अपना संचालन बंद कर दिया है क्योंकि वे अपने दिन-प्रतिदिन के कार्यों को करने के लिए जद्दोजहद से जूझ रहे हैं।

"पत्रकार अपनी रिपोर्टो की जानकारी सरकारी मीडिया दफ्तर को दें"

यहां तक कि ये भी कहा जा रहा है कि पत्रकार अपनी रिपोर्टो की जानकारी सरकारी मीडिया दफ्तर को दें। अमेरिका स्थित प्रेस फ्रीडम ऑर्गेनाइजेशन के वरिष्ठ सदस्य स्टीवन बटलर ने कहा, 'पत्रकार डरे हुए हैं, हमारे ऑर्गेनाइजेशन को अफगान पत्रकारों की तरफ से मदद के लिए सैकड़ों ई-मेल मिल रहे हैं।

मीडिया कर्मियों को तालिबानी लड़ाकों द्वारा परेशान किया जा रहा है

'द न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, देश की आर्थिक मंदी के बीच कुछ प्रमुख समाचार पत्रों को भी प्रिंट ऑपरेशन बंद करने और अब केवल ऑनलाइन प्रकाशित करने के लिए मजबूर होना पड़ा है। मीडिया कर्मियों को तालिबानी लड़ाकों द्वारा परेशान किया जा रहा है उन्हें प्रताड़ित करने और जाने मारने की भी खबरें सामने आ रही हैं।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर