अमेरिका में अफ्रीकी मूल के अश्वेत पर पुलिस की बर्बरता, घुटने के नीचे दबाई गर्दन- दम घुटने से मौत

African American death: चार अमेरिकी पुलिस अधिकारियों ने एक अश्वेत शख्स के साथ बर्बरता की सारी हदें पार कर दीं। सांस लेने में हो रही तकलीफ के बारे में बताने पर भी पुलिस अधिकारी ने अपना पैर नहीं उठाया।

Police brutality on Black Man
अश्वेत पर अमेरिका में पुलिस की बर्बरता 

मुख्य बातें

  • अफ्रीकी मूल के अश्वेत के साथ अमेरिका में फिर हुई बर्बरता
  • पुलिस ने रोड पर उलटा लिटाकर गर्दन पर रख दिया घुटना
  • दम घुटने से हो गई मौत, घटना पर अश्वेत अमेरिकियों के विरोध के बीच हंगामा

नई दिल्ली: अमेरिका में एक बार फिर अश्वेत समुदाय के शख्स के के खिलाफ हिंसा और हत्या का मामला सामने आया है। इसका एक वीडियो सामने आने के बाद अमेरिका में बड़े पैमाने पर आंदोलन देखने को मिल रहे हैं। मिनियापोलिस के एक अधिकारी ने पांच मिनट तक शख्स की गर्दन को घुटनों के नीचे दबाकर रखा और फिर दम घुटने से उसकी मौत हो गई। मंगलवार को अफ्रीकी अमेरिकियों ने पुलिस के क्रूर व्यवहार पर हंगामा किया है।

एएफपी की रिपोर्ट के अनुसार मिनियापोलिस के मेयर जैकब फ्रे ने सोमवार को पीड़ित अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की हिरासत में मौत के बाद चार पुलिस अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। वीडियो देखकर पता चलता है कि गर्दन पर एक अधिकारी के घुटना रखने के बाद अफ्रीकी मूल का शख्स कहता है, 'तुम्हारे घुटने मेरी गर्दन पर हैं। मैं सांस नहीं ले पा रहा।'

गर्दन पर घुटना रखकर बोले- उठकर कार में बैठो: रिपोर्ट्स के अनुसार मृतक शख्स की उम्र 30 से 40 साल के बीच है। धीरे-धीरे उसका शरीर शांत होता गया और सभी हरकतें बंद हो गईं। इस दौरान अधिकारियों ने उसे ताना भी मारा कि 'उठो और कार में बैठो।' अचेत होने के बाद उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे बाद में मृत घोषित कर दिया गया। अधिकारियों ने हत्या के लिए मुकदमा चलाया जा रहा है।

छल्का परिवार का दर्द: फ्लॉयड के परिजनों से बात करने के बाद मामले में वकील बेन क्रम्प ने कहा, 'मैंने जो देखा वह हर स्तर पर गलत था। पांच मिनट के लिए, हमने देखा कि एक श्वेत अधिकारी ने एक अश्वेत व्यक्ति की गर्दन को अपने घुटने से दबाया। अमेरिका में काला होने के लिए मौत की सजा नहीं होनी चाहिए।'

क्रम्प ने एक बयान में कहा कि फ़्लॉइड को पुलिस द्वारा जालसाजी के आरोप में हिरासत में लिया था, यह आरोप अक्सर खराब चेक लिखने या खरीद के लिए नकली बैंकनोट का उपयोग करने के लिए होता है। उन्होंने कहा, 'हिंसा के इस घिनौने, अत्यधिक अमानवीय प्रयोग से एक व्यक्ति की जान चली गई, जिसे पुलिस ने अहिंसक आरोप में पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था।'

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर