[Video] दुनिया को धोखा देने की कोशिश कर रहा है पाक ! अगवा सिख लड़की की नहीं हुई घर वापसी

दुनिया
Updated Sep 20, 2019 | 21:11 IST | टाइम्स नाउ ब्यूरो

पाकिस्तान में अगवा की गई सिख लड़की की अभी तक घर वापसी नहीं हुई है। इसको लेकर पीड़िता के परिवार ने पाकिस्तान स्थित ननकाना साहिब में विरोध प्रदर्शन किया है।

Pakistan Sikh girl
अगवा सिख लड़की के परिवार ने किया प्रदर्शन 

मुख्य बातें

  • पाकिस्तान में अगवा सिख लड़की की अभी तक नहीं हुई है घर वापसी
  • पीड़िता के पिता का आरोप है कि लड़की को अगवा कर जबरन इस्लाम धर्म कबूल करवाया गया है
  • पाकिस्तान में लगातार अल्पसंख्यकों के साथ हो रही हैं घटनाएं

इस्लामाबाद: पाकिस्तान अगवा कि गई सिख लड़की पर लगातार प्रतिदिन नए-नए झूठ गढ़ रहा है। इमरान खान सरकार की तरफ से कहा जा रहा है कि सिख लड़की को वापस उसके घर भेज दिया गया है, जबकि पीड़िता के परिवार का कहना है कि सरकार झूठ बोल रही है और बेटी अभी तक घर नहीं लौटी है। अगवा सिख लड़की की वापसी को लेकर पीड़िता के परिवार ने शुक्रवार को पाकिस्तान स्थित ननकाना साहिब में इमरान सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। 

वहीं, इस मामले को लेकर अकाली दल के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा है, 'हम बीते एक महीने से इस मुद्दे को उठा रहे हैं कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक पर अत्याचार किया जा रहा है और उनका जबरन धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है।' उन्होंने आगे कहा कि संयुक्त राष्ट्र में इमरान खान कुछ भी बोले लेकिन उन्हें बताना चाहिए कि आखिर पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर इतने जुर्म क्यों किए जा रहे हैं।

 

 

सिरसा ने कहा कि पंजाब के राज्यपाल के यहां से कहा गया कि लड़की घर वापस भेज दी गई है। उसके बावजूद पीड़िता के परिजन प्रदर्शन कर रहे हैं जिसका साफ मतलब है कि इमरान खान सरकार झूठ बोल रही है और लड़की अभी तक घर वापस नहीं भेजी गई है। विधायक ने कहा कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों का जबरन खात्मा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हिंदू- सिख समुदाय के बच्चियों को पाकिस्तान में जबरन अगवा कर उनका धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है और ये पाकिस्तान सरकार की साजिश है।

 

बता दें कि कुछ सप्ताह पूर्व जगजीत कौर नाम की सिख लड़की को अगवा कर उसका जबरन धर्म परिवर्तन कराते हुए उसे इस्लाम कबूल करवाया गया था। इसके बाद, पीड़िता के पिता ने आरोप लगाया था कि उसकी बेटी को बंदूक के बल पर अगवा किया गया है और जबरन उसकी मुस्लिम युवक से शादी कराई गई है।

इसके बाद पाकिस्तान की अंतरराष्ट्रीय मंचों पर खूब किरकिरी हुई। मामले पर दबाव बढ़ता देख पाकिस्तान की पंजाब सरकार बैकफुट पर आ गई और उसने एक उच्च स्तरीय कमेटी बनाकर जांच के आदेश दिए थे। लेकिन अभी तक न तो आरोपी पर कोई कार्रवाई हुई और न ही लड़की को वापस भेजा गया है।

वहीं, इस मामले पर पाकिस्तानी पीएम इमरान खान का कहना है कि अगले हफ्ते उनके संयुक्त राष्ट्र आमसभा (UNGA) की बैठक को संबोधित करने से पहले एक साजिश की जा रही है जिसके जरिए पाकिस्तान को बदनाम किया जा सके।

गौरतलब है कि बीते कुछ समय में पाकिस्तान के अंदर से हिंदू- सिख समुदाय पर लगातार जुल्म करने की घटनाएं सामने आती रही हैं। अभी हाल ही में एक लड़की को जान से मारने का मामला सामने आया था। पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचार का मसला दुनिया के अलग- अलग हिस्सों में भी उठने लगा है और इसको लेकर इमरान सरकार की खूब किरकिरी हो ही है। इससे पहले पाकिस्तान की संसद में भी एक सिख सांसद ने अल्पसंख्यकों के साथ हो रही घटनाओं को लेकर इमरान सरकार पर निशाना साधा था।

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...