जेल गया तो और खतरनाक हो जाऊंगा...आतंकी मामले में जब लटकी गिरफ्तारी की तलवार तो पाक सरकार को चेता बैठे इमरान खान

Imran Khan Pakistan: पाकिस्तान के पीएम इमरान खान फिलहाल 12 सितंबर तक जमानत पर हैं। उन्हें आतंकवाद मामले में इस्लामाबाद पुलिस द्वारा नोटिस जारी किया गया था।

Pakistan, Imran khan, PTI chief,
पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान  |  तस्वीर साभार: Facebook
मुख्य बातें
  • सत्ता जाने के बाद से लगातार पाक सरकार पर हमलावर रहे हैं इमरान खान
  • देशभर में पार्टी को मजबूत करने के लिए कर रहे हैं रैलियां
  • महंगाई के मुद्दे पर गई थी इमरान खान की सरकार

पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान, सत्ता के जाने के बाद से ही पाक सरकार पर भड़के हुए हैं। एक ओर जहां सरकार के खिलाफ लगातार रैलियां कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ सरकार को सीधे-सीधे धमका भी रहे हैं। अब अपनी गिरफ्तारी की आशंका को लेकर उन्होंने पाकिस्तान की शरीफ सरकार को धमकी दी है। उन्होंने कहा है कि अगर उन्हें गिरफ्तार किया जाता है तो वो और भी खतरनाक हो जाएंगे।

दरअसल इमरान खान के खिलाफ आतंकवाद का मामला चल रहा है। इसी मामले की सुनवाई के दौरान इस्लामाबाद हाई कोर्ट के बाहर पुलिस की भारी तैनाती की गई थी। इसी पर नजर जाते हैं ही इमरान खान भड़क गए। उन्हें गिरफ्तारी की आशंका हुई और उन्होंने पाकिस्तान की सरकार को धमका दिया। 

पत्रकारों से बात करते हुए, इमरान खान ने अदालत में पुलिस और अन्य कानून प्रवर्तन एजेंसियों की भारी तैनाती पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें जेल भेजा गया तो वो और खतरनाक हो जाएंगे।

बात दें कि इस अदालत में जिन लोगों को अलग-अलग मामलों में  पेश होना था, उन्हें कड़ी जांच के बाद ही अंदर जाने दिया गया। पूर्व पीएम फिलहाल 12 सितंबर तक जमानत पर हैं। उन्हें आतंकवाद मामले में संयुक्त जांच दल के सामने पेश होने में विफल रहने के बाद इस्लामाबाद पुलिस द्वारा नोटिस जारी किया गया था। 

इमरान खान के खिलाफ अपने भाषण में अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल करने और अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश जेबा चौधरी को धमकी देने के लिए मारगल्ला पुलिस स्टेशन में आतंकवाद का मामला दर्ज किया गया है। खान पर आतंकवाद विरोधी अधिनियम (एटीए) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

ये भी पढ़ें- जिस पाकिस्तान से थी अफगानिस्तान की दोस्ती, वो अब दुश्मनी में हो रही तब्दील; सीमा से लेकर क्रिकेट तक में भिड़ रहे दो मुस्लिम देश

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर