WHO ने भारत की 10 लाख आशा वर्कर्स को किया सम्मानित, इस तरह किया उनके काम का बखान

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भारत की 10 लाख महिला आशा स्वयंसेवकों को सम्मानित किया है। आशा स्वयंसेवकों को यह सम्मान ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाने और कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ अभियान में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका के लिए दिया गया है।

ASHA Workers
आशा वर्कर्स 
मुख्य बातें
  • डब्ल्यूएचओ ने भारत की दस लाख महिला आशा स्वयंसेवकों को सम्मानित किया
  • डब्ल्यूएचओ ने कहा कि सम्मानित लोगों में आशा भी हैं जिसका हिंदी में अर्थ उम्मीद है
  • मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता ग्रामीण क्षेत्र में कार्य करती हैं

भारत की 10 लाख अखिल महिला आशा कार्यकर्ताओं को WHO द्वारा वैश्विक स्वास्थ्य को आगे बढ़ाने, क्षेत्रीय स्वास्थ्य मुद्दों का नेतृत्व करने में उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किया गया है। भारत में 10 लाख से अधिक महिला आशा स्वयंसेवक हैं। उन्हें समुदाय को स्वास्थ्य प्रणाली से जोड़ने और ग्रामीण गरीबी में रहने वाले लोगों की कोविड-19 महामारी के दौरान प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं तक पहुंच सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका के लिए सम्मानित किया गया है।

डब्ल्यूएचओ ने अपने आधिकारिक बयान में कहा कि आशा वर्कर्स ने बच्चों को मातृ देखभाल और टीकाकरण प्रदान करने; सामुदायिक स्वास्थ्य देखभाल; उच्च रक्तचाप और टीबी के लिए उपचार और पोषण, स्वच्छता और स्वस्थ जीवन के लिए स्वास्थ्य संवर्धन के मुख्य क्षेत्र में काम किया। 

डब्ल्यूएचओ दक्षिण-पूर्व एशिया की क्षेत्रीय निदेशक डॉ. पूनम खेत्रपाल सिंह ने आशा कार्यकर्ताओं की प्रशंसा करते हुए कहा कि आशा स्वास्थ्य की सच्ची चैंपियन हैं जो लोगों के दरवाजे तक प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल लाने में मदद करती हैं। उनका काम हमेशा अनुकरणीय रहा है, खासकर महामारी के दौरान। मैं वास्तव में इस योग्य मान्यता के लिए इन दस लाख से अधिक महिला कर्मचारियों को बधाई देती हूं।

इन पुरस्कारों की स्थापना 2019 में की गई थी और पुरस्कार समारोह 75वीं विश्व स्वास्थ्य सभा के उच्च-स्तरीय उद्घाटन सत्र का हिस्सा था।डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक डॉ. टेड्रोस अधानोम घेब्येयियस ने छह ग्लोबल हेल्थ लीडर्स अवार्ड्स की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि ऐसे समय में जब दुनिया असमानता, संघर्ष, खाद्य असुरक्षा, जलवायु संकट और एक महामारी के अभूतपूर्व अभिसरण का सामना कर रही है, यह पुरस्कार उन लोगों को मान्यता देता है जिन्होंने दुनिया भर में स्वास्थ्य की रक्षा और बढ़ावा देने में उत्कृष्ट योगदान दिया है। इन पुरस्कार विजेताओं में आजीवन समर्पण, समानता के प्रति प्रतिबद्धता और मानवता की निस्वार्थ सेवा शामिल है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर