मस्जिद तोड़कर उस जगह पांच सितारा होटल बना रहा है चीन, निर्माण के खिलाफ बहिष्कार का आह्वान

उइगर मुस्लिमों के खिलाफ चीन लगातार अत्याचार करते रहा है। चीन ने उइगरों के धार्मिक स्थलों को नष्ट कर दिया है। ताजा मामला मस्जिद तोड़कर उस जगह शानदार होटल बनाने का है जिसका अमेरिका में विरोध हो रहा है।

Muslim groups boycott Hilton over planned hotel on Uighur mosque
मस्जिद तोड़कर वहां 5 सितारा होटल बना रहा है चीन, विरोध शुरू  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • उइगर मुस्लिमों पर लगातार जुल्म ढहा रहा है चीन
  • चीन में उइगर मुस्लिमों की मस्जिद तोड़कर बनाया जा रहा है होटल
  • अमेरिका में एक मुस्लिम नागरिक अधिकार समूह ने किया इसका विरोध

वाशिंगटन: चीन में उइगर मुस्लिमों के खिलाफ अत्याचारों के मामले किसी से छिपे नहीं है। पहले भी उइगर मुस्लिमों के कई धार्मिक स्थलों को तोड़कर वहां शौचालय का निर्माण करा चुके चीन ने अब एक और मस्जिद को तोड़कर वहां पांच सितारा होटल होटल बनाने जा रहा है। इस मस्जिद वाली जगह पर 'हिल्टन' समूह द्वारा होटल का निर्माण किया जाना है। इस फैसले के खिलाफ अमेरिका में एक मुस्लिम नागरिक अधिकार समूह ने ‘हिल्टन’ के होटलों के बहिष्कार का आह्वान किया है।

लगातार आलोचनाओं का सामना करता रहा है चीन

चीन में उइगर समुदाय की मस्जिद को तोड़कर उसके स्थान पर होटल बनाने की कथित योजना के बाद यह कदम उठाया गया। ‘काउंसिल ऑन अमेरिकन-इस्लामिक रिलेशंस’ और अन्य संगठनों ने बृहस्पतिवार को वाशिंगटन में कैपिटल हिल्टन के बाहर एक संवाददाता सम्मेलन किया और बहिष्कार संबंधी घोषणा की। चीन अपने यहां शिनजियांग प्रांत में मुस्लिम उइगर आबादी के उत्पीड़न को लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आलोचनाओं का सामना करता रहा है।

संस्कृति का नरसंहार

आलोचकों का कहना है कि यह अभियान सांस्कृतिक नरसंहार के बराबर है, जिसमें उइगरों को ‘‘पुनः शिक्षा शिविरों’’ में हिरासत में रखना और मस्जिदों तथा अन्य सांस्कृतिक स्थलों को नष्ट करना शामिल है। जुलाई में, चीन पर द्विदलीय कांग्रेस-कार्यकारी आयोग ने भी ‘हिल्टन’ को उस परियोजना को रोकने के लिए बुलाया था, जिसके तहत ‘हैम्पटन इन’ होटल का निर्माण होना है।

2019 में खरीदी थी जमीन

वर्जीनिया स्थित हिल्टन के होटल ‘मैकलीन’ के एक प्रवक्ता ने बृहस्पतिवार को एक बयान में कहा ‘हम इस बात की पुष्टि कर सकते हैं कि 2019 में एक स्वतंत्र, चीनी स्वामित्व वाले समूह ने सार्वजनिक नीलामी के माध्यम से एक होटल सहित व्यावसायिक विकास की योजना के लिए एक खाली भूमि खरीदी थी। भूमि का चयन करने की प्रक्रिया में हिल्टन शामिल नहीं था।’

(एजेंसी इनपुट्स के साथ)

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर