लव इन द टाइम ऑफ कोरोना: बुजुर्ग दंपत्ति मिल नहीं सकते, लेकिन ऐसे बयां कर रहे हैं हाल-ए-दिल

दुनिया
नवीन चौहान
Updated Feb 13, 2020 | 13:52 IST

कोरोना वायरस की वजह से पूरे चीन में आपातकाल जैसी स्थितियां बनी हुई हैं। मरीजों को परिजनों से मिलने नहीं दिया जा रहा है ऐसे में वो अपना हाल ए दिल इस तरह एक दूसरे से बयां कर रहे हैं।

kiwi and love letter
kiwi and love letter 

बीजिंग: चीन में कोरोना वायरस का कहर कम होने का नाम नहीं ले रहा। रोजाना कोरोना वायरस से संक्रमण के हजारों नए मामले सामने आ रहे हैं। अकेले चीन में अब तक तकरीबन 60 हजार लोग इस जानलेवा वायरस की चपेट में आ चुके हैं। जबकि तकरीबन 1400 लोग(1362) इसकी वजह से अपनी जान भी गंवा चुके हैं। 

ऐसी आपात स्थिति में लोग एक दूसरे के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं और वायरस से लड़कर उबरने में सहयोग कर रहे हैं। कोराना से लड़ रहे चीन में एक बुजुर्ग दंपत्ति की प्रेम कहानी भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। पति का इलाज अस्पताल में चल रहा है दोनों एक दूसरे से मिल नहीं सकते, लेकिन एक दूसरे का आत्मविश्वास बढ़ाने और ढांढस बांधने के लिए प्रेम पत्र लिख रहे हैं। 

पूर्वी चीन के हांगजू शहर में नैनी नाम की एक बूढ़ी महिला कोराना वायरस से पीड़ित अपने पति से मिलने रोज अस्पताल आती थीं। वो उन्हें आईसीयू में कीवी फ्रूट खिलाती थीं और जाने से पहले उनके माथे को छूती थीं। लेकिन कोरोना वायरस की वजह से पीड़ितों के करीबियों के अस्पताल आने और मिलने पर रोक लगाए जाने के बाद भी नैनी रोजाना अस्पताल आती हैं और कीवी फ्रूट नर्स को दे देती हैं। साथ ही अपने पति के लिए लिखे प्रेमपत्र भी उन्हें सौंपकर बदले में  पति द्वारा लिखे प्रेमपत्र हासिल कर लेती हैं। इस तरह ये दंपत्ति इस बुरे दौर में अपना हाल-ए-दिल एक दूसरे से बयां कर रहे हैं। प्रेम पत्र में वो अपने पति से रोजाना मजबूत और आशावादी बने रहने की बात कहती हैं।  

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर