'अहंकार में चूर हैं डोनाल्‍ड ट्रंप... देश नवंबर तक नहीं कर सकता इंतजार'

दुनिया
भाषा
Updated Jun 03, 2020 | 07:52 IST

Joe Biden slams Donald Trump: अमेरिका में गहराते कोरोना संकट और अश्‍वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की निर्मम हत्‍या के बाद जहां हिंसक प्रदर्शनकों का दौर जारी है, वहीं इस मसले पर सियासत भी तेज हो गई है।

'अहंकार में चूर हैं डोनाल्‍ड ट्रंप... देश नवंबर तक नहीं कर सकता इंतजार', बाइडेन का ट्रंप पर वार
'अहंकार में चूर हैं डोनाल्‍ड ट्रंप... देश नवंबर तक नहीं कर सकता इंतजार', बाइडेन का ट्रंप पर वार  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • अमेरिका में जारी कोरोना संकट और विरोध-प्रदर्शनों के बीच डेमोक्रेट नेता जो बाइडेन ने डोनाल्‍ड ट्रंप पर बड़ा हमला बोला है
  • उन्‍होंने कहा राष्‍ट्रपति अंध अहंकार में चूर हैं और समस्‍या के समाधान की बजाय उसका हिस्सा बनकर उसे और बढ़ा रहे हैं
  • अमेरिका में नवंबर में होने वाले राष्‍ट्रपति चुनाव के मद्देनजर उन्‍होंने कहा कि देश तब तक नतीजों का इंतजार नहीं कर सकता

फिलाडेल्फिया : अमेरिका में अफ्रीकी-अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस यातना में मौत के मामले पर सियासत तेज हो गई है। डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद के संभावित उम्मीदवार जो बाइडेन ने फिलाडेल्फिया में 'अमेरिका में अशांति' विषय पर भाषण के दौरान कहा कि 'ट्रंप के लिए उनका अहंकार देश के नेतृत्व करने से ज्यादा जरूरी हो गया है।'

'देश नवंबर तक नहीं कर सकता इंतजार'

बाइडेन ने कहा व्यवस्था में जड़ें जमा चुके नस्लवाद और गहरी आर्थिक असमानता से निपटने का समय आ गया है। उन्होंने कहा कि देश नवंबर तक चुनाव और उसके नतीजों का इंतजार नहीं कर सकता। बीस मिनट से कुछ अधिक समय के अपने भाषण में उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति समस्या का हिस्सा बनकर उसे और बढ़ा रहे हैं। वह अंध अहंकार में चूर हैं।

ट्रंप ने राज्यों के गवर्नरों को धमकी दी थी कि अगर वे जॉर्ज फ्लॉयड की मौत को लेकर हो रहे हिंसक प्रदर्शनों को रोकने में नाकाम रहते हैं तो वह राज्यों में सेना तैनात कर देंगे। इसके एक दिन बाद बाइडेन ने यह भाषण दिया है।

प्रदर्शनों के वक्‍त चर्च में फोटो खिंचवा रहे थे ट्रंप!

बताया जा रहा है कि एक ओर जब संघीय सरकार के अधीन आने वाली पुलिस वाशिंगटन में शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे लोगों को आंसू गैस का इस्तेमाल कर तितर-बितर कर रही थी, तब राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप नजदीकी सेंट जॉन्स गिरजाघर जाकर बाइबिल के साथ फोटो खिंचवा रहे थे। गिरजाघर को रविवार को हुए प्रदर्शनों के दौरान नुकसान पहुंचा था।

बाइडेन ने कहा, 'व्हाइट हाउस के बाहर शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे लोगों को जब आंसू गैस और फ्लैश ग्रेनेड का इस्तेमाल कर तितर-बितर किया जा रहा था । तब राष्ट्रपति गिरजाघर के सामने फोटो खिंचवाने में मशगूल थे। उन्होंने कहा, 'राष्ट्रपति का काम मुश्किल होता है। कोई भी सबकुछ ठीक नहीं कर सकता। मैं भी नहीं। लेकिन मैं आपसे वादा करता हूं कि मैं डर और विभाजन को पैर पसारने नहीं दूंगा। मैं नफरत की इस आग में घी नहीं डालने दूंगा।'

अगली खबर