Joe Biden : संयुक्त राष्ट्र महासभा में पुतिन पर जमकर बरसे बाइडन, बोले-यूक्रेन को नक्शे से मिटाने की कोशिश हुई

Joe Biden attacks Vladimir Putin : अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि 'आप की तरह, संयुक्त राज्य अमेरिका भी चाहता है कि यह युद्ध उचित शर्तों पर समाप्त हो - जिन शर्तों पर हम सभी ने हस्ताक्षर किए हैं, कि आप किसी देश के क्षेत्र पर जबरन कब्जा नहीं कर सकते।'

At UNGA Joe Biden says russia attempted to erase Ukraine from the map
यूएनजीए को संबोधित करते अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन।  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • संयुक्त राष्ट्र महासभा में यूक्रेन युद्ध के लिए रूस पर जमकर बरसे जो बाइडन
  • अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि यूक्रेन को दुनिया के नक्शे से मिटाने की कोशिश हुई
  • 'रूस ने संयुक्त राष्ट्र के चार्टर का खुला उल्लंघन करते हुए पड़ोसी देश पर हमला किया'

Joe Biden at UNGA: संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) को संबोधित करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रूस पर तीखा हमला बोला है। युक्रेन युद्ध के लिए रूस को जिम्मेदार ठहराते और उसे कठघरे में खड़ा करते हुए बाइडेन ने कहा कि रूस ने यूक्रेन के अस्तित्व को मिटाने की कोशिश की। उसने पश्चिमी देशों को परमाणु हमले की धमकी दी है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि वह भी चाहते हैं कि रूस-यूक्रेन का युद्ध उचित शर्तों के समाप्त हो। बता दें कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने टेलिविजन पर देश को संबोधित करते हुए कहा कि अपनी क्षेत्रीय एकता की सुरक्षा के लिए वह तीन लाख सैनिकों की तैनाती करने जा रहे हैं। 

पुतिन ने यूरोप के खिलाफ परमाणु हमले की धमकी दी
पुतिन ने कहा है कि जरूरत पड़ी तो अपनी सुरक्षा के लिए रूस अपने पास उपलब्ध सभी विकल्पों का इस्तेमाल करने से पीछे नहीं हटेगा। पश्चिमी देश इसे परमाणु हमले की धमकी के रूप में देख रहे हैं। यूएनजीए के मंच पर बाइडन ने कहा कि आज राष्ट्रपति पुतिन अप्रसार शासन की जिम्मेदारियों के प्रति लापरवाह अवहेलना करते हुए यूरोप के खिलाफ परमाणु हमले की धमकी दी। रूस लड़ाई में शामिल होने के लिए और सैनिकों को बुला रहा है। यूक्रेन के कुछ हिस्सों पर कब्जा करने की कोशिश के लिए क्रेमलिन एक दिखावटी जनमत संग्रह करने जा रहा है। 

यूएन चार्टर के मूल सिद्धांतों का उल्लंघन किया-बाइडन
बाइडन ने रूस पर निशाना साधते हुए आगे कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) के प्रमुख सदस्य देश ने अपने पड़ोसी मुल्क पर आक्रमण किया और दुनिया के नक्शे से एक संप्रभु राष्ट्र को मिटाने की कोशिश की। रूस ने बेशर्मी से संयुक्त राष्ट्र के चार्टर के मूल सिद्धांतों का उल्लंघन किया है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, 'यह युद्ध यूक्रेन के एक राज्य के रूप में अस्तित्व के अधिकार को खत्म करने के बारे में है। आप जो भी हैं, जहां भी रहते हैं, जो कुछ भी आप मानते हैं - वह आपके खून को ठंडा कर देगा। इसलिए महासभा में 141 राष्ट्र एक साथ आए और यूक्रेन के खिलाफ रूस के युद्ध की निंदा की'। 

'उचित शर्तों पर समाप्त हो युद्ध'
बाइडन ने आगे कहा कि 'आप की तरह, संयुक्त राज्य अमेरिका भी चाहता है कि यह युद्ध उचित शर्तों पर समाप्त हो - जिन शर्तों पर हम सभी ने हस्ताक्षर किए हैं, कि आप किसी देश के क्षेत्र पर जबरन कब्जा नहीं कर सकते। इस युद्ध के रास्ते में खड़ा एकमात्र देश रूस है।' रूस-यूक्रेन युद्ध अपने सातवें महीने में प्रवेश कर गया है।

पीएम नरेंद्र मोदी सही थे जब वो..यूएनजीए में फ्रेंच राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने रूस यूक्रेन युद्ध का जिक्र कर दिया संदेश

यूक्रेन की सेना कुछ समय से पलटवार करते हुए कब्जे वाले क्षेत्रों पर दोबारा नियंत्रण हासिल कर रही है। यूक्रेनी सेना के हमलों की वजह से रूस की सेना को पीछे हटना पड़ा है। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर