क्या रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पार्किंसन रोग का कर रहे हैं सामना, राष्ट्रपति पद छोड़ने की अटकलें

Vladimir putin: क्या रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन जनवरी में राष्ट्रपतिका पद छोड़ देंगे। दरअसल इस तरह की खबरें आ रही हैं कि वो पार्किंसन रोग का सामना कर रहे हैं, हालांकि इसके बारे में पुष्टि नहीं है।

क्या रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पार्किंसन रोग का कर रहे हैं सामना, राष्ट्रपति पद छोड़ने की अटकलें
व्लादिमीर पुतिन, रूस के राष्ट्रपति  |  तस्वीर साभार: AP

नई दिल्ली। व्लादिमिर पुतिन किसी पहचान के मोहताज नहीं है। वो रूस के राष्ट्रपति है, लेकिन अब यह खबर आ रही है कि वो जनवरी में राष्ट्रपति पद की कुर्सी छोड़ सकते हैं। अब ऐसा क्या हो गया कि इस तरह की खबरें आने लगी हैं। पुतिन के सामने इस समय किसी तरह की राजनीतिक चुनौती भी नहीं इसके साथ ही वो स्वस्थ भी नजर आते हैं तो आखिर इस तरह की खबर क्यों आ रही है कि वो कुर्सी छोड़ सकते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक पुतिन में पारकिंशन रोग के लक्षण नजर आ रहे हैं और हौ सकता है कि इस वजह से कुर्सी का राष्ट्रपति पद को अलविदा कह दें। 

पुतिन के परिवार का दबाव
मॉस्को के राजनीतिक वैज्ञानिक वालेरी सोलोवी ने द सन को बताया कि रूसी राष्ट्रपति की 37 वर्षीय प्रेमिका, अलीना काबेवा, और उनकी दो बेटियाँ उन्हें कार्यालय छोड़ने के लिए प्रेरित कर रही हैं।रिपोर्ट में कहा गया है कि पुतिन हाल ही में अपनी कुर्सी के कवच को दबाते समय दर्द में दिखाई दिए और उनके पैर लगातार गति में दिखाई दिए। उन्होंने कहा कि उनकी उंगलियों को स्पष्ट रूप से चिकोटी काटते देखा गया था क्योंकि उन्होंने एक पेन पकड़ लिया था और एक कप में दर्द निवारक का कॉकटेल होने की आशंका जताई थी।

क्या अमेरिकी चुनाव का हो सकता है असर
सोलोवी ने समाचार आउटलेट को बताया, "एक परिवार है, उसका उस पर काफी प्रभाव है। वह जनवरी में अपनी हैंडओवर योजनाओं को सार्वजनिक करने का इरादा रखता है। जल्द ही "पुतिन" ने ट्विटर पर netizens के साथ साझा करना शुरू कर दिया कि वे कैसे इस पर विश्वास नहीं कर सकते। कई लोगों ने कहा कि खबर तनावपूर्ण अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव 2020 की अराजकता से जुड़ी है।

लोगों का क्या है कहना
एक यूजर ने कहा, "पुतिन इस्तीफा दे रहे हैं। 2020 पर मुझे इस हफ्ते सब कुछ पकड़ने के लिए दूसरा मौका दें।" एक अन्य ने लिखा, "WAIT PUTIN IS RESIGNING AS THE ???" तीसरा यूजर कहता है कि मैं निश्चित रूप से पुतिन के बारे में एक बहुत बड़ी बात पर भरोसा नहीं करता जब तक कि ऐसा कुछ भी नहीं होता है।"

पुतिन के पद छोड़ने की अटकलें इसलिए भी आ रही है कि पुतिन एक ऐसे कानून पर  विचार कर रहे हैं जो पूर्व राष्ट्रपतियों को आपराधिक अभियोजन से आजीवन प्रतिरक्षा प्रदान करेगा। इस बिल को मंजूरी मिलनी बाकी है। फिलहाल अगर कोई शख्स राष्ट्रपति पद पर जब तक काबिज रहता है कि तब तक उसपर मुकदमा नहीं चलाया जा सकता है।  

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर