ईरान ने परमाणु समझौते का फिर किया उल्लंघन, 'सेंट्रीफ्यूज' उपकरणों का किया उपयोग

दुनिया
Updated Sep 26, 2019 | 22:05 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

अमेरिका और ईरान के बीच चल रहे तनाव के बीच ईरान ने एक बार फिर परमाणु समझौते का उल्लंघन किया है।

Iran using advanced centrifuges
Hassan Rouhani 

मुख्य बातें

  • ईरान ने एक बार फिर से किया परमाणु समझौते का उल्लंघन
  • ईरान ने यूरेनियम के संवर्धन में सहायता करने वाले सेंटीफ्यूज का उपयोग किया है
  • इस कदम से अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ने की संभावना है

तेहरान: समाचार एजेंसी एएफपी न्यूज एजेंसी ने इंटरनेशनल एटॉमिक एनर्जी एजेंसी के हवाले खबर दी है कि ईरान ने एक बार फिर से परमाणु समझौते का उल्लंघन करते हुए उन्नत सेंट्रीफ्यूज का उपयोग किया है। ईरान ने यह कदम ऐसे समय में उठाया है जब उसके अमेरिका के साथ तनावपूर्ण रिश्ते चल रहे हैं। कुछ समय पहले ही ईरान ने कहा था कि वह परमाणु समझौते को लेकर अपनी प्रतिबद्धताओं को कम करेगा।

ईरान कई मौकों पर कह चुका है कि वह उसका परमाणु कार्यक्रम पूरी तरह शांतिपूर्ण है लेकिन सेंटीफ्यूज का प्रयोग करना उसके दावे के बिल्कुल उलट है। ईरान के इस कदम के बाद अमेरिका की आक्रामक प्रतिक्रिया सामने आ सकती है।

क्या है सेंटीफ्यूज

सेंट्रीफ्यूज एक तरह की मशीन है जो यूरेनियम के संवर्धन में सहायता करती है दूसरे शब्दों में कहें तो सेंट्रीफ्यूज को हिंदी में अपकेंद्रण यंत्र भी कहा जाता है जिसका उपयोग यूरेनियम के रासायनिक कणों को एक-दूसरे से अलग करने के लिए करते हैं।

 

दरअसल अमेरिका और ईरान के रिश्ते इस समय बेहद नाजुक दौर से गुजर रहे हैं। सऊदी अरब के तेल ठिकानों पर ड्रोन हमले के बाद से यह तनाव फिर बढ़ गया है। अमेरिका जहां ईरान को इसके लिए जिम्मेदार ठहरा रहा है वहीं ईरान ने भी अमेरिका को चुनौती दे दी है। 

दरअसल अमेरिका चाहता है कि ईरान नए समझौते पर उसके अनुसार आगे बढ़े जिसके लिए हसन रूहानी तैयार नहीं हैं। अमेरिका की शर्त है कि ईरान अपना परमाणु कार्यक्रम अनिश्चित काल के लिए बंद करे तांकि उसके द्वारा जिन बैलेस्टिक मिसाइलों का प्रयोग किया जा रहा है उन्हें बंद किया जा सके। इसी वजह से अमेरिका ने ईरान पर कई प्रतिबंध भी लगाए थे।

 

अगली खबर