ईरान का दावा-सैटेलाइट नियंत्रित मशीन गन से हुई परमाणु वैज्ञानिक की हत्या, AI का हुआ इस्तेमाल

रिवोल्यूशनरी गॉर्ड्स के डिप्टी कमांडर ने कहा कि यह सबकुछ सैटेलाइट के जरिए ऑनलाइन नियंत्रित किया जा रहा था। इस हमले में 'अत्याधुनिक कैमरा एवं कृत्रिम इंटेलिजेंस का इस्तेमाल किया गया।'

Iran says scientist killed by satellite-controlled machine gun
ईरान का दावा-सैटेलाइट नियंत्रित मशीन गन से हुई परमाणु वैज्ञानिक की हत्या, AI का हुआ इस्तेमाल।  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड के डिप्टी कमांडर ने किया है सनसनीखेज दावा
  • अधिकारी ने कहा कि वैज्ञानिक फख्रीजादा की हत्या एआई का हुआ इस्तेमाल
  • ईरान के अधिकारियों ने अपने वैज्ञानिक की हत्या के लिए इजरायल पर उंगली उठाई है

तेहरान : ईरान का कहना है कि पिछले सप्ताह उसके परमाणु वैज्ञानिक की हत्या सैटेलाइट नियंत्रित 'ऑर्टिफिशियल इंटेलिजेंस' वाली मशीन गन से हुई। यह सनसनीखेज दावा रिवोल्यूशनरी गॉर्ड्स के डिप्टी कमांडर ने रविवार को स्थानीय मीडिया के साथ की। बता दें कि बीते दिनों ने ईरान के परमाणु कार्यक्रम के संस्थापक मोहसिन फख्रीजादा की घात लगाकर किए गए एक हमले में हत्या कर दी गई। ईरान के कई समूहों ने इस हत्या के लिए इजरायल को जिम्मेदार ठहराया है। हालांकि, किसी ने भी वैज्ञानिक की हत्या की जिम्मेदारी नहीं ली है। 

27 नवंबर को तेहरान के पास हुई वैज्ञानिक की हत्या
समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक रियर एडमिरल अली फदावी ने कहा कि गत 27 नवंबर को फख्रीजादा अपने 11 सुरक्षाकर्मियों के काफिले के साथ तेहरान के बाहर हाईवे पर जा रहे थे। इसी दौरान एक मशीन गन उनके चेहरे की तरफ आई और उन पर 13 राउंड गोलीबारी की। मेहर समाचार एजेंसी ने डिप्टी कमांडर के हवाले से कहा कि यह मशीन गन एक निशान पिकअप के ऊपर लगाई गई थी। इस मशीनगन के फोकस में केवल परमाणु वैज्ञानिक थे। उन्होंने बताया कि मशीन गन को इस तरह से नियंत्रित किया गया था कि परमाणु वैज्ञानिक की पत्नी जो कार में उनसे 25 सेंटीमीटर (10 इंच) की दूरी पर थीं, गोली उन्हें न लगे।

ऑनलाइन नियंत्रित हुआ हमला
उन्होंने कहा कि यह सबकुछ सैटेलाइट के जरिए ऑनलाइन नियंत्रित किया जा रहा था। इस हमले में 'अत्याधुनिक कैमरा एवं कृत्रिम इंटेलिजेंस का इस्तेमाल किया गया।' फदावी ने कहा कि फख्रीजादा के मुख्य सुरक्षाकर्मी को चार गोलियां लगीं क्योंकि उसने वैज्ञानिक को बचाने के लिए खुद से उनको ढंका था। हमले के समय घटनास्थल पर आतंकवादियों की कोई मौजूदगी नहीं पाई गई। 

ईरान ने इजरायल पर उठाए सवाल
ईरान के अधिकारियों ने वैज्ञानिक की हत्या के लिए अपनी कट्टर दुश्मन देश इजरायल और निर्वासित विपक्षी समूह पीपुल मुजाहिद्दीन ऑफ ईरान को जिम्मेदार ठहराया है। सरकार द्वारा नियंत्रित टेलिविजन प्रेस टीवी कह चुका है कि घटनास्थल पर इजरायल निर्मित हथियार पाए गए। वैज्ञानिक फख्रीजादा को पिछेल सप्ताह सुपुर्द-ए-खाक किया गया। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर