Raja Ampat: धरती का आखिरी स्वर्ग है तो यहीं है, यहीं है, यही हैं...देखिए PHOTOS

दुनिया
अभिषेक गुप्ता
अभिषेक गुप्ता | Principal Correspondent
Updated Sep 07, 2022 | 16:41 IST

Raja Ampat: राजा अंपत में लगभग 1600 से ज्यादा मछलियों की प्रजातियां पाई जाती हैं। एमर के हवाले से बताया गया कि वहां पर बेहद सुंदर कोरल गार्डन्स (मूंगे के बगीचे) हैं।

 last paradise on earth, paradise on earth, raja ampat, indonesia, world news
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः www.indonesia.travel) 

Raja Ampat: दुनिया में अगर कहीं जन्नत है तो कहां है? यह सवाल जहन में जब भी आता है, तब सबसे पहले कश्मीर का ख्याल आता है। आपने कहावत भी सुनी होगी, "धरती पर अगर कहीं स्वर्ग है, तो यहीं है, यहीं है, यही हैं।" पर अब एक ऐसी लोकेशन सामने आई है, जो कश्मीर की सुंदरता को भी टक्कर दे सकती है और उसे धरती का आखिरी स्वर्ग बताया जा रहा है। नाम है- राजा अंपत (Raja Ampat), जो कि इंडोनेशिया (Indonesia) में है।

दरअसल, लगभग 30 साल पहले इतिहास को लेकर जुनूनी डचमैन मैक्स एमर को मकान मालिक से जानकारी मिली थी कि द्वितीय विश्व युद्ध के समय का एक जहाज इंडोनेशिया में कहीं डूबा हुआ है। एमर ने इसके बाद खोज पर निकल पड़े। मछुआरों से पूछते और इनपुट्स जुटाते हुए कई आइलैंड्स से होकर आगे बढ़े। इस बीच, उन्हें इंडोनेशिया के पश्चिमी पापुआ प्रांत (West Papua Province) में राजा अंपत द्वीप समूह मिला, जिसकी प्राकृतिक खूबसूरती देखकर वह हैरान रह गए।  

raja ampat, indonesia, world news

कोरल ट्रायंगल (Coral Triangle) के बीचो-बीच राजा अंपत मरीन प्रोटेकेक्टेड एरिया (समुद्री संरक्षित क्षेत्र नेटवर्क) करीब चार मिलियन हेक्टेयर में फैला है और इसके तहत लगभग 1500 द्वीप आते हैं। यह सबसे समृद्ध समुद्री जैव विविधता वाला क्षेत्र माना जाता है।

'सीएनएन ट्रैवल' की रिपोर्ट के मुताबिक, राजा अंपत में लगभग 1600 से ज्यादा मछलियों की प्रजातियां पाई जाती हैं। एमर के हवाले से बताया गया कि वहां पर बेहद सुंदर कोरल गार्डन्स (मूंगे के बगीचे) हैं। रोचक बात है कि अपने प्रकृति प्रेम के चलते साल 1994 में वहां पर एक रिसॉर्ट खोला था, जिसका नाम- Kri Eco Dive Resort था। उनका मकसद था कि वह स्थानीय डाइवर्स (गोताखोरों) को ट्रेन कर के और अन्य लोगों को साथ लाकर पूरी तरह अंडरवॉटर वर्ल्ड तक ला सकें।  

raja ampat, indonesia, world news

वैसे,  Konservasi Indonesia के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट मीजानी इरमाधियानी ने आगे बेवसाइट को बताया कि लगभग 20 साल राजा अंपत तबाही की कगार पर पहुंच गया था। ऐसा इसलिए, क्योंकि वहां पर सबसे बड़ी समस्या तब अनियंत्रित कमर्शियल फिशिंग बन गई थी। शार्क और कछुओं का अवैध शिकार भी तब होने लगा था।

बहरहाल, 2004 में वहां समुद्री जीवन लौट आया। राजा अंपत को इसी साल  West Papua's Bird's Head Seascape पहल से जोड़ा गया, जिसके बाद वहां मछलियों की संख्या बढ़ने के साथ चीजों और हालात में भी सुधार हुआ। रोचक बात है कि राजा अंपत मरीन पार्क नेटवर्क को Blue Parks Award से सम्मानित किया जा चुका है।

raja ampat, indonesia, world news

राजा अंपत को लेकर इंडोनेशिया के टूरिज्म साइट (www.indonesia.travel) पर उपलब्ध जानकारी बताती है कि राजा अंपत नाम भी दंतकथा से निकल आया, जिसमें एक महिला को सात अंडे मिले थे। उनमें से चार इन चार प्रमुख द्वीपों के राजा बने, जबकि शेष तीन में एक महिला, भूत और पत्थर बने।  

Raja Ampat से जुड़ी मुख्य बातें:

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर