Niger : बाइक पर सवार होकर आए बंदूकधारी, जो कुछ भी हिलता दिखा गोलियों से भून डाला, 137 की मौत

सोमवार को सरकार ने कहा कि इन हमलों में 137 लोगों की जान गई है। सरकार के प्रवक्ता अब्दुर्रहमाने जकरिया ने ने कहा कि 'बंदूकधारी अब आम नागरिकों को सुनियोजित तरीके से निशाना बना रहे हैं।

Gunmen on motorbikes raid Niger villages, kill at least 137
नाइजर में भीषण हमला। (फाइल फोटो)  |  तस्वीर साभार: AP

नियामे : नाइजर देश बंदूकधारियों के घातक हमलों से जूझ रहा है। पिछले रविवार को मोटरसाइकिल पर आए बंदूकधारियों ने देश दक्षिणपश्चिमी इलाके में स्थित कई गांवों में भीषण हमला किया और कई गांवों को तबाह करते हुए कम से कम 137 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी। रिपोर्टों के मुताबिक नाइजर सरकार का कहना है कि रविवार को गांवों पर हुए हमले हाल के दिनों में हुए हमलों में सबसे भीषण थे। बंदूकधारियों ने इंताजावेने, बाकोराट और विस्टेन गांवों में हमले किए। ये गांव माली की सीमा से लगे हुए हैं। रिपोर्टों में एक स्थानीय अधिकारी के हवाले से कहा गया कि बंदूकाधारी उन सभी चीजों पर गोलीबारी करते रहे जो 'उन्हें हिलती-डुलती' नजर आई। 

फायरिंग में 137 लोग मारे गए
सोमवार को सरकार ने कहा कि इन हमलों में 137 लोगों की जान गई है। सरकार के प्रवक्ता अब्दुर्रहमाने जकरिया ने ने कहा कि 'बंदूकधारी अब आम नागरिकों को सुनियोजित तरीके से निशाना बना रहे हैं। इन्होंने क्रूरता एवं हिंसा की हदें पार कर दी हैं।'

दुनिया के गरीब देशों में शामिल है नाइजर
नाइजर दुनिया के सर्वाधिक गरीबों देशों में शामिल हैं। संयुक्त राष्ट्र की विकास रैकिंग में यह 189वें पायदान पर है। माली और नाइजीरिया के सशस्त्र गुटों के संघर्ष का असर इस देश पर भी पड़ा है। हाल के वर्षों की हिंसा में नाइजर में सैकड़ों लोग मारे गए हैं और करीब पांच लोग विस्थापित हुए हैं।

फरवरी में हुए हैं चुनाव
गौरलतब है कि जनवरी में देश के पश्चिम में स्थित तोंकम्बंगौ और जरौमदारे गांव में भी हमला किया गया था, जिसमें कम से कम 100 लोग मारे गए थे। उस दिन नाइजर ने 21 फरवरी को राष्ट्रपति चुनाव कराए जाने की घोषणा की थी। वहीं करीब एक सप्ताह से भी कम पहले हुए हमले में कम से कम 66 लोग मारे गए थे। नाइजर में हाल ही में हुए हमलों की किसी आतंकवादी संगठन ने जिम्मेदारी नहीं ली है।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर