Balakot Airstrike: इमरान सरकार की पाक के पूर्व राजनयिक ने खोली पोल, बालाकोट में मारे गए थे 300 आतंकी

बालाकोट एयर स्ट्राइक के संबंध में पाकिस्तान के पूर्व राजनयिक आगा हिलाली का कहना है कि जैश के 300 आतंकी मारे गए थे जो पाक सेना के बयान से उलट है।

Balakot Airstrike: इमरान सरकार की पाक के पूर्व राजनयिक ने खोली पोल, बालाकोट में मारे गए थे 300 आतंकी
26 फरवरी 2019 को भारतीय सेना ने बालाकोट एयरस्ट्राइक को दिया था अंजाम 

मुख्य बातें

  • 26 फरवरी 2019 को बालाकोट में जैश के ठिकाने को भारतीय वायुसेना ने बनाया था निशाना
  • पाक के पूर्व राजनयिक का दावा, मारे गए थे 300 आतंकी
  • पुलवामा हमले के 12 दिन बाद भारत ने एयर स्ट्राइक को दिया था अंजाम

नई दिल्ली। बालाकोट एयरस्ट्राइक एक बार फिर चर्चा में है। दरअसल इस स्ट्राइक के संबंध में पाकिस्तान के पूर्व राजनयिक आगा हिलाली ने जो कुछ कहा है उसके बाद पाकिस्तान की राजनीति में भूचाल है। उन्होंने कहा कि 26 फरवरी 2019 में भारत द्वारा किए गए एयर स्ट्राइक में 300 आतंकी मारे गए थे। यह जानकारी इसलिए खास है क्योंकि आगा हिलाली आमतौर पर टीवी डिबेट में पाकिस्तानी फौज का समर्थन करते रहे हैं और इस विषय में उनका दावा पाकिस्तानी सेना के दावे के उलट है। पाकिस्तानी सेना ने कहा था कि किसी की भी मौत नहीं हुई थी।
आगा हिलाली का दावा
पाकिस्तान के खैबर पख्तुनख्वा प्रांत में जब जैश ए मोहम्मद के टेरर ट्रेनिंग कैंप को निशाना बनाया गया तो आनन फानन में पाकिस्तान सेना की तरफ से जीरो कैजुअलटी की खबर आई। बता दें कि 14 फरवरी 2019 को पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर आतंकी हमले में 40 शहीद हो गए थे और उस आतंकी हमले की जिम्मेदारी जैश ए मोहम्मद ने ली थी।

पुलवामा हमले का भारत ने दिया था जवाब
जैश की हरकत का जवाब देने के लिए भारतीय वायुसेना पाकिस्तानी सीमा में दाखिल हुई और जैश के ट्रेनिंग कैंप को तबाह कर दिया। इस सफल स्ट्राइक के बाद भारत की तरफ से सफाई आई कि यह आतंकी संगठन के खिलाफ कार्रवाई थी। आगा हिलाली का यह बयान पीएमएल-एन के अयाज सादिक के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा था कि विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने खुद कबूल किया था कि अगर पाकिस्तान, भारतीय विंग कमांडर को नहीं छोड़ता तो भारत हमला कर देता। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर